Mahila Samridhi Loan Scheme: महिला सफाई कर्मी लोन लेकर स्वरोजगार कर सकेंगी, जानें कैसे? लोन राशि, पात्रता और आवेदन प्रक्रिया!

समाज की पिछडे वर्ग और बीपीएल परिवार की सफाई कर्मचारी और अपने हाथ से मैला साफ करने वाली महिलाओं के लिए सरकार लोन प्रदान करती है महिला समृद्धि योजना (MSY) सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के अंतर्गत राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग वित्त और विकास निगम के द्वारा चलाई जाती हैजिसमें बहुत कम ब्याज दर पर लोन दिया जाता है जिससे ये महिलाएं अपना पारंपरिक मैला साफ करने के काम को छोड़ कर अपना छोटा रोजगार कर सकें और सम्मान से जीवन बिता सकें।

योजना के तहत सरकार स्वयं सहायता समूह के माध्यम से या सीधे सूक्ष्म वित्त, आवेदक को देती है देश की अनुसुचित जातियों/अनुसूचित जन्जातियों की आर्थिक और सामाजिक रूप से वंचित महिलाओं के सामाजिक और आर्थिक जीवन को सुधारने के लिए सरकार ने ये योजना शुरू की।

ये ऋण योजना पूरे देश में राज्य चैनल एजेंसी (एससीए) के माध्यम से प्रबंधित की जाती है  इस योजना का मकसद महिलाओ को विशेष रूप से गरीब और बीपीएल वर्ग को आर्थिक सहायता देना है जिससे वे अपना नया बिजनेस शुरू कर सकें या पुराने बिजनेस को बढ़ा सकें।एमएसवाई के द्वारा बिजनेस की शुरुआत के लिए 1 लाख रुपये की आर्थिक मदद दी जाती है।

Mahila Samridhi Loan Scheme महत्वपूर्ण बिंदु

  • ये योजना विशेष रूप से एससी/एसटी और पिछड़ा वर्ग की महिलाओं के सामाजिक और आर्थिक उत्थान के लिए शुरू हो गई है।
  • योजना का लाभ एसएचजी (स्वयं सहायता समूह) से जुड़ी महिलाओं को ही दिया जाता है।
  • ग्रामीण क्षेत्र, बीपीएल कार्ड धारक महिला ऋण योजना का लाभ उठा सकते हैं ऋण योजना से एसएचजी को मजबूती मिलती है क्योंकि ऋण राशि एसएचजी के माध्यम से लाभार्थी तक पहुंचती है।
  • MSY द्वारा मैला ढोने के सामाजिक कलंक को धोकर आर्थिक रूप से स्वतंत्र होने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।
  • एसएचजी से जुड़ी एससी/एसटी महिलाओ को बिना संपार्श्विक और सुरक्षा के 1 लाख तक का ऋण आय का स्रोत उत्पन्न करने के लिए दिया जाता है।
  • एसएचजी ग्रुप को कम ब्याज पर माइक्रो फाइनेंस लोन देकर अपना लघु व्यवसाय शुरू करने में मदद मिलती है।
  • महिला समृद्धि ऋण योजना की ब्याज दर 4% रहती है लोन का पुनर्भुगतान 3 साल में त्रिमासिक किस्तो में करना होता है, जिसमें 3 महीने का मोरेटोरियम अवधि होता है, जिसमें ईएमआई भुगतान नहीं करना होता है।
  • एनएसएफडीसी, एससीए/सीए पर लोन राशि पर 2% का ब्याज चार्ज करता है जबकी एससीए/सीए 6% ब्याज पर आवेदक को लोन देता है।
  • एनएसएफडीसी project cost का 90% तक लोन प्रदान करता है जिसकी अधिकतम सीमा  1.25 लाख तक हो सकती है।
  • छोटे व्यवसाय के लिए सॉफ्ट टॉय बनाना, पाउच बनाना, साइकिल सीट कवर बनाना, मोमबत्ती निर्माण जैसे सभी उद्योगों को मंजूरी मिल जाती है।
  • महिला समृद्धि ऋण योजना में एससीए (राज्य चैनलाइजिंग एजेंसी), सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, एक चैनल पार्टनर के रूप में काम करते हैं।
  • लोन गारंटी एनबीसीएफडीसी (नेशनल बैकवर्ड क्लास फाइनेंस एंड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन) द्वारा ली जाती है।
  • एमएसवाई योजना के केंद्र में एससी/एसटी,अल्पसंख्यक और गरीब पिछड़ी महिलाओं का कौशल विकास करके उन्हें किसी आय सृजन करने वाले लघु व्यवसाय से जोड़कर उद्यमी बनाना होता है
  • एमएसवाई योजना में माइक्रोक्रेडिट सुविधा के माध्यम से वित्तीय चैनल तक पहुँचना आसान  होता है।
  • एमएसवाई योजना एक बहुउद्देश्यीय योजना है माइक्रोफाइनेंस सुविधा के द्वारा समाज की वंचित महिलाओं को कौशल विकास के बाद, उद्यमी बनाकर महिला सशक्तिकरण को समर्थन दिया जाता है ऐसी महिलाओं को बैंकिंग सहायता मिलने से इनका आत्मविश्वास बढ़ता है।

इन्हें भी पढ़े

Deen Dayal Upadhyay Grih Awas(Home stay) Scheme: अपने घर को बिना तोड़े बनाएं होम स्टे, कमाएं लाखो सरकार देगी लोन के साथ सब्सिडी और टैक्स पर छूट!

Veer Chandra Singh Garhwali Paryatan Swarojgar  Scheme : राज्य सरकार से मिलेगा टैक्सी और इलेक्ट्रिक बस के लिए लोन, चेक करें आइटम सूची, पात्रता लोन राशि!

Mahila Samridhi Loan Scheme महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आईडी प्रूफ- पैन कार्ड, मतदाता आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट
  • निवास प्रमाण पत्र-बिजली बिल, राशन कार्ड
  • एसएचजी सदस्यता आईडी
  • जाति प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Mahila Samridhi Loan Scheme पात्रता मानदंड

  • आवेदक एससी/एसटी समुदाय से होनी चाहिए
  • साझेदारी फर्म, सहकारी समिति, या व्यक्तिगत आवेदक, आय सृजन गतिविधियों को शुरू करके एमएसवाई योजना का लाभ ले सकते हैं
  • सभी साझेदारी फर्मों, सहकारी समितियों के सदस्य एससी/एसटी समुदाय से होने चाहिए
  • आवेदक की वार्षिक घरेलू आय 3 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए
  • आवेदक को एनएसएफडीसी के माध्यम से राज्य चैनलाइजिंग एजेंसी/चैनलाइजिंग एजेंसी पर वित्तीय सहायता के लिए आवेदन करना चाहिए
  • आवेदक की उम्र कम और 55 से अधिक नहीं होनी चाहिए
  • एमएसवाई योजना के लिए केवल महिलाएं ही आवेदन कर सकती हैं
  • आवेदक को भारतीय होना चाहिए
  • आवेदक को एसएचजी के तहत पंजीकृत होना चाहिए

Mahila Samridhi Loan Scheme आवेदन प्रक्रिया

महिला समृद्धि ऋण योजना केवल महिलाओं के लिए है लोन के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन किया जा सकता है नीचे दिए गए चरणों के माध्यम से लोन के लिए आवेदन करें-

  • महिला समृद्धि ऋण योजना के लिए आवेदन फार्म NBCFDC की आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड करें या योजना से संबंधित चैनल पार्टनर के कार्यालय से ऋण के लिए आवेदन पत्र की हार्डकॉपी ली जा सकती है।
  • आवेदन पत्र को ध्यान से पढने के बाद फिल करें।
  • फॉर्म के साथ व्यक्तिगत दस्तावेज जैसे आय प्रमाण पत्र, पते के प्रमाण दस्तावेजों की स्कैन की गई कॉपी संलग्न करें, क्षेत्र के जिला चैनल पार्टनर्स के कार्यालय में जाकर सबमिट करें।
  • फॉर्म के साथ आवेदक के व्यवसाय का विवरण, ऋण राशि, पहले लिए गए व्यावसायिक प्रशिक्षण का प्रमाण पत्र, आवेदक की विस्तृत जानकारी से संबंधित दस्तावेज संलग्न करने होंगे।
  • एनबीसीएफडीसी की आधिकारिक वेबसाइट पर ऑनलाइन फॉर्म भरकर सबमिट करें।
  • ऑनलाइन सबमिट किया गया फॉर्म स्टेट/डिस्ट्रिक्ट के चैनल पार्टनर्स को ट्रांसफर कर दिया जाता है।
  • ऑनलाइन या ऑफलाइन जो फॉर्म प्राप्त होते हैं, उसको चेक और वेरीफाई किया जाता है महिला उद्यमी को बाकी औपचारिकताओं के लिए कॉल किया जाता है।
  • महत्वपूर्ण आधिकारिक प्रक्रिया के बाद माइक्रो फाइनेंस ऋण राशि को महिला उद्यमी या एसएचजी समूह के बैंक खाते में ऋण स्वीकृत होने के 1 महीने के भीतर ट्रांसफर कर दिया जाता है।
  • फंड यूटिलाइजेशन को मॉनिटर करने के लिए चैनल पार्टनर्स समय-समय पर लाभार्थियों के साथ समीक्षा बैठक करते हैं।

Mahila Samridhi Loan Scheme Conclusion

महिला समृद्धि ऋण योजना एक सूक्ष्म वित्त ऋण योजना है सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्र की एससी/एसटी महिलाओ के लिए एक विशेष ऋण योजना चलायी गयी है जिसके द्वारा उनके सामाजिक और आर्थिक जीवन को बेहतर बनाने के लिए ऋण दिया जाता है।

ये योजना सबसे नीचे तबके की महिलाओ के लिए है जिनके पास साधनो की कमी है और समाज में भी सम्मान नहीं है ऐसी स्थिति में उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए कौशल विकास प्रशिक्षण और वित्तीय सहायता दी जाती है समय-समय पर उनके व्यवसाय का ऑडिट किया जाता है यह जिला स्तर पर किया जाता है।

Mahila Samridhi Loan Scheme FAQ

Q: NSFDC की ऋण योजना में महिला उम्मीदवार को प्राथमिकता दी जाती है?

A: एससी जनसंख्या के आधार पर फंड आवंटित किया जाता है, कुल फंड का 40% महिला उम्मीदवारों को शारीरिक और वित्तीय दोनों शर्तों पर आवंटित किया जाता है महिला उम्मीदवारों को 0.5% -1% ब्याज पर छूट दी जाती है।

Q: महिला समृद्धि ऋण योजना के लिए कौन पात्र है?

A: केवल महिला उम्मीदवार जिनकी उम्र 18 से 55 वर्ष है, पारिवारिक आय वार्षिक 3 लाख तक है और जो पंजीकृत एसएचजी की सदस्य हैं, वह महिला समृद्धि योजना की पात्र है।

Q: महिला समृद्धि ऋण योजना के तहत कितना लोन लिया जा सकता है?

A: 1.25 लाख, इस पर आपको 4 % का वार्षिक ब्याज देना होगा लोन को 3 साल में पुनर्भुगतान करना होगा जिसमें 3 महीने का मोरटोरियम पीरियड दिया जाएगा।

नमस्ते दोस्तो! मेरा नाम अनिता गुप्ता है, मुझे फाइनेंस से जुड़े विषयों पर लेख द्वारा जानकारी साझा करना अच्छा लगता है जिससे किसी जरूरतमंद को मदद मिल सके, भविष्य में भी हम इस प्रकार के उपयोगी पोस्ट लाते रहेंगे यही हमारा प्रोआईटी न्यूज़ वेबसाइट को बनाने का उद्देश्य है। धन्यवाद!

Leave a Comment