Mahila Udyam Nidhi Loan Scheme: सफल बिजनेस वुमन होने के सपने को साकार करें जानिए SIDBI से Approved बिजनेस लिस्ट पात्रता, दस्तावेज और आवेदन प्रक्रिया !

भारत सरकार महिलाओ को आर्थिक रूप से स्वतंत्र बनाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है  इस श्रृंखला में वह नई योजनाएं लेकर आ रही हैं जिनके माध्यम से महिलाओं को व्यवसाय से जोड़ा जा सकेआज हम आपको लघु उद्योग विकास बैंक ऑफ इंडिया (SIDBI)की एक योजना से परिचित करा रहे हैं, जिसे महिला उद्यम निधि योजना के नाम से जाना जाता है।

सिडबी, महिला उद्यम निधि योजना के तहत विनिर्माण, उत्पादन और सेवा (सड़क परिवहन संचालन को छोड़कर) से संबंधित व्यवसाय के लिए महिलाओं को वित्तीय सहायता प्रदान करती है

जिसके तहत 10 लाख तक का ऋण छोटे पैमाने पर उद्यम शुरू करने के लिए दिया जाता है। पुराने बिज़नेस को आगे बढ़ाने के लिए भी ऋण राशि का उपयोग किया जा सकता है पंजाब नेशनल बैंक ने महिला उद्यम निधि ऋण योजना को सिडबी के दिशा निर्देश में शुरू किया था

Mahila Udyam Nidhi Loan Scheme महत्वपूर्ण बिंदु

  • MUN योजना सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों को वित्तीय सहायता देकर बिजनेस वुमन को सशक्त बनाने के लिए लॉन्च की गई है
  • महिला उद्यमियों को कम ब्याज पर, बिना सुरक्षा, लचीली पुनर्भुगतान अवधि के साथ 10 लाख तक का लोन दिया जाता है
  • महिला उद्यम निधि ऋण राशि का उपयोग व्यवसायी महिला उत्पादन, विनिर्माण या वर्तमान विनिर्माण इकाई को अपग्रेड करना या विस्तार करना या प्रौद्योगिकी उन्नयन के लिए कर सकती है इस ऋण योजना पर बैंक अलग ब्याज दर पर ऋण देते हैं
  • इस ऋण योजना के अंतर्गत 10 वर्ष के पुनर्भुगतान अवधि के लिए ऋण प्रदान किया जाता है, इसके अधिस्थगन अवधि को 5 वर्ष के लिए बढ़ाया जा सकता है।
  • महिला उद्यम निधि ऋण योजना के तहत कुल परियोजना लागत का 25% तक ऋण लिया जा सकता है एक प्रोजेक्ट के लिए अधिकतम 2.5 लाख रुपये स्वीकृत किये जाते हैं
  • व्यवसायी महिलाओं को रियायती दर पर ऋण दिया जाता है, ऋण ब्याज, परियोजना लागत व्यवसाय का प्रकार और क्रेडिट इतिहास के अनुसार अलग-अलग हो सकता है।
  • अधिकतम ब्याज दर 12% प्रति वर्ष तक लगाया जाता है
  • बैंक दवारा ऋण पर 1% प्रति वर्ष का सेवा शुल्क लगाया जाता है। लोन पास करने वाला अधिकारी के पास इस चार्ज को वापस (रद्द) लेने का अधिकार होता है
  • महिला उद्यम निधि ऋण के लिए किसी संपार्श्विक या सुरक्षा जमा की आवश्यकता नहीं होती है
  • महिला उद्यम निधि ऋण योजना के तहत सिडबी के द्वारा स्वीकृत किया जाता है, जबकी स्वीकृत ऋण का भुगतान NBFC बैंक, बैंक और माइक्रोफाइनेंस संस्थान द्वारा किया जाता है।
  • महिला उद्यम निधि ऋण योजना का ब्याज दर सिडबी के द्वारा फाइनल किया जाता है। जिसमें समय के अनुसार परिवर्तन किया जा सकता है
  • महिला उद्यम निधि ऋण योजना की शर्तें नरम हैं और योजना सभी के लिए आसानी से उपलब्ध है इस सुविधा ने योजना को अन्य योजनाओं से काफी विशेष बना दिया है
  • वित्तीय सहायता और व्यवसाय के लिए ऋण के अलावा महिला उद्यम निधि योजना, महिलाओं को आर्थिक सशक्तीकरण देकर छोटे, लघु उद्योग के साथ नई नौकरी के अवसर खोलती है
  • इस योजना की ब्याज दर को मध्यम रखा गया है लोन बिना कोलैटरल और सिक्योरिटी के मिल जाता है

महिला उद्यम निधि ऋण योजना के तहत नीचे दी गई व्यावसायिक गतिविधियों को मंजूरी दी गई है जिन में व्यवसाय शुरू किया जा सकता है-

  • डे केयर सेंटर
  • ऑटो रिक्शा
  • दोपहिया वाहन
  • कार खरीद
  • टाइपिंग सेंटर
  • सिलाई
  • कृषि और कृषि उपकरणों की सर्विसिंग
  • वॉशिंग मशीन और अन्य इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स
  • टाइपिंग सेंटर
  • सैलून
  • टीवी रिपेयरिंग
  • सड़क परिवहन ऑपरेटर
  • मोबाइल रिपेयरिंग
  • फोटोकॉपी केंद्र
  • ड्राईक्लीनिंग
  • आईएसडी/एसटीडी बूथ
  • साइबर केफे
  • क्रेच
  • कंप्यूटरीकृत डेस्कटॉप प्रकाशन
  • कैंटीन और रेस्तरां
  • केबल टीवी नेटवर्क
  • ब्यूटी पार्लर
  • ऑटो रिपेयरिंग और सर्विस सेंटर, ब्यूटी पार्लर

इन्हें भी पढ़े

उद्योग लगाओ आय बढ़ाओ: कोल्ड स्टोरेज या पैक हाउस लगाकर लें 50 लाख का अनुदान, राजस्थान योजना की जानकारी लेकर आज ही आवेदन करें!

Mukhyamantri E-Ricksaw Jan-Kalyan Yojna: बेरोजगारों को ई- रिक्शा मालिक बनने के लिए सरकार से मिल रहा है लोन, साथ में एफडी और बीमा सुविधा, योजना के लाभ जानकर आज ही आवेदन करें!

Mahila Udyam Nidhi Loan Scheme पात्रता मानदंड

महिला उद्यम निधि ऋण योजना के लिए आवेदन करने से पहले आपको नीचे पात्रता की जांच करनी चाहिए-

  • साझेदारी उद्यम होने की स्थिति में महिला उद्यमी का शेयर 51% से कम नहीं होना चाहिए बिजनेस मैन्युफैक्चरिंग और प्रोडक्शन क्षेत्र में होना चाहिए
  • MSME, छोटी इकाई या छोटे उद्योग चलाने वाली या शुरू करने वाली उद्यमी
  • एमएसएमई या छोटे व्यवसाय न्यूनतम 5 लाख से शुरू करने वाले उद्यमी
  • ऐसे उद्यमी जिनका उद्यम उत्पादन, विनिर्माण सेवा क्षेत्र में है
  • सेवा, व्यापार या विनिर्माण क्षेत्र में चल रहा हो या नया उद्यम हो
  • ऐसे एमएसएमई जो विभिन्न गतिविधियों में सुधार, प्रौद्योगिकी उन्नयन, व्यापार विस्तार में शामिल है

Mahila Udyam Nidhi Loan Scheme आवश्यक दस्तावेज

महिला उद्यम निधि ऋण योजना आवश्यक दस्तावेज-

  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • ईमेल आईडी
  • बैंक स्टेटमेंट
  • बैंक खाता विवरण
  • पते का प्रमाण
  • बिजनेस पंजीकरण विवरण
  • बिजनेस विवरण

Mahila Udyam Nidhi Loan Scheme ऐसे अप्लाई करें

महिला उद्यम निधि लोन केवल पंजाब नेशनल बैंक ही दे रहा है,अगर आप लोन के लिए आवेदन करना चाहते है-

  • पीएनबी की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करें।
  • होम पेज पर सर्च ऑप्शन में महिला उद्यम निधि योजना सर्च करें
  • योजना सूची ओपन होगी एमएसएमई ऋण योजना के लिए आवेदन पत्र नहीं मिलता तब तक स्क्रॉल करें 1 करोड़ तक के लिए लोन का विकल्प चुनें
  • विकल्प चुनने के बाद आपको महिला उद्यम निधि ऋण योजना ऑनलाइन आवेदन पत्र पर रीडायरेक्ट कर दिया जाएगा
  • डाउनलोड करके प्रिंटआउट लेकर मैन्युअल रूप से फॉर्म भरें
  • फॉर्म भरें, अपने दस्तावेज़ की विस्तृत जानकारी दर्ज करें
  • अपने बिजनेस की डिटेल एंटर करें
  • संपार्श्विक(Collateral) सिक्योरिटी विवरण भरें
  • अपनी फर्म के पिछले प्रदर्शन और भविष्य की योजना के बारे में बताएं
  • पता और आईडी प्रूफ की डिटेल दर्ज करें
  • जहां जरूरी हो अपना पासपोर्ट साइज फोटो ग्राफ लगाएं और साइन करें सभी प्रविष्टियाँ सही भरी हुई हैं या नहीं, फॉर्म को चेक करके नजदीकी पीएनबी शाखा में फॉर्म सबमिट करें।
  • अगर आप बैंक की पात्रता पूरी करते हैं तो बैंक सभी दस्तावेजों का सत्यापन करके आपका ऋण स्वीकृत कर देगा।
  • ऋण राशि आपके बैंक खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी

Mahila Udyam Nidhi Loan Scheme Conclusion

महिला उद्यमी होना समाज और स्वयं के लिए गर्व की बात है पुरुषों के समान महिलाओं को भी आगे बढ़ने के मौके मिले क्षेत्र चाहे कोई भी हो उनकी प्रतिभा का सम्मान होना चाहिए महिला उद्यमी को वित्तीय स्वतंत्रता मिलनी न केवल परिवार बल्की समाज और देश के लिए भी बहुत जरूरी है

एक महिला उद्यमी, अन्य महिलाओं को रोजगार देती है, जिससे बेरोजगारी तो कम होती है, समाज में एक अच्छा संकेत जाता है और अधिक महिलाएं उत्साहित होती हैं और बड़ी संख्या में उद्योग से जुड़ती हैं, इसलिए एक उद्यमी महिला कई परिवारो की महिलाओं के लिए आदर्श बन जाती है

Mahila Udyam Nidhi Loan Scheme FAQ

Q: महिला उद्यमियों की तुलना में पुरुष उद्यमी अधिक क्यों है?

A: जो महिलाएं उद्योग शुरू करना चाहती हैं उन्हें अपना बिजनेस शुरू करने के लिए  फंडिंग मिलने की संभावना कम होती है कम महिलाएं अपना बिजनेस शुरू कर पाती हैं क्योंकि उनमें एक पुरुष स्टार्टअप संस्थापक की तुलना मेंआत्मविश्वास की कमी होती है

Q: महिला उद्यम निधि लोन योजना क्या है?

A: इस ऋण योजना में केवल महिला उद्यमी को ही ऋण दिया जाता है इस योजना का लाभ लेने के लिए महिला उद्यमियों को कंपनी में न्यूनतम 51% का शेयर धारक होना चाहिए। ये ऋण केवल उत्पादन विनिर्माण और सेवा से संबंधित व्यवसाय के लिए स्वीकृत किया जाता है।

नमस्ते दोस्तो! मेरा नाम अनिता गुप्ता है, मुझे फाइनेंस से जुड़े विषयों पर लेख द्वारा जानकारी साझा करना अच्छा लगता है जिससे किसी जरूरतमंद को मदद मिल सके, भविष्य में भी हम इस प्रकार के उपयोगी पोस्ट लाते रहेंगे यही हमारा प्रोआईटी न्यूज़ वेबसाइट को बनाने का उद्देश्य है। धन्यवाद!

Leave a Comment