प्रधानमंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह योजना (PM-MKSSY):सरकार देगी मछुआरों को Loan  Eligibility Criteria,Important Document !

CCIA (आर्थिक मामलों की कैबिनेट समिति) की मंजूरी के बाद प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना (PMMSY) के तहत एक Sub Scheme प्रधानमंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना (PM-MKSSY) को शुरू किया गया है आज के इस आर्टिकल में हम आपको प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के बारे में सभी उपयोगी जानकारी देंगे

इस योजना से मत्स्य पालन से जुड़े लोगो को रोजगार के नए अवसर मिलेंगे केंद्र सरकार की योजना आने वाले कुछ वर्षों में 6000 करोड़ रुपये मत्स्य पालन और इससे जुड़े अन्य उद्योगो में निवेश करने की है

केंद्र सरकार इस योजना के माध्यम से जल कृषि, मत्स्य पालन, मत्स्य पालन से जुड़े मछली कार्यकर्ता या ऐसे अन्य लोग जो किसी ना किसी रूप में मछली पालन से जुड़े है उन्हें लाभ देना चाहती है

इस योजना से मछुआरो, जल किसानो और मछली पालक मजदूरो को कम ब्याज दर पर Loan दिया जा सकेगा

PM-MKSSY Loan Scheme क्या है?

PM-MKSSY केंद्रीय क्षेत्र की उप-योजना है इस योजना को केंद्रीय सरकार प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के तहत लेकर आई है, इस योजना के माध्यम से सरकार मत्स्य पालन क्षेत्र और उससे जुड़े छोटे और सूक्ष्म उद्यमों को समर्थन और मदद देना चाहती है

इसके लिए सरकार ने आगे आने वाले 4 सालो के लिए 6000 करोड़ की योजना तैयार की है, इस Scheme के द्वारा केंद्र सरकार जल खेती करने वाले किसान, मछुआरो और जल खेती से जुड़े मजदूरों को कम ब्याज पर लोन देगी

इस योजना से मछली उत्पादन और sea food उत्पादन में वृद्धि होगी देश के 9.45 करोड़ मछुआरो को इसका सीधा फायदा मिलेगा

PM-MKSSY योजना वित्तीय वर्ष 2023-24 से 2026-27 तक के लिए लागू हो गई है, ये योजना भारत के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए है

PM-MKSSY योजना के 6000 करोड़ के बजट में भारत सरकार 3000 करोड़ खर्च करेगी बाकी 3000 करोड़ निजी क्षेत्र से जुडी कंपनियां निवेश करेंगी

इन्हें भी पढ़े

PM SVANidhi Loan Scheme: आत्मनिर्भर बनने के लिए 50,000 रुपये का लोन कैसे लें, सरकार दे रही बिना गारंटी लोन!

नई स्वर्णिमा ऋण योजना:अब महिलाओं को मिलेगा बिजनेस करने का मौका लोन के साथ सब्सिडी मुफ्त!

PM-MKSSY Loan Scheme : महत्वपूर्ण बिंदु

  • सरकार मछुआरों, मछली पालन करने वाले मजदूरों को नेशनल फिशरीज डिजिटल प्लेटफॉर्म से जोड़ना चाहती है
  • इस योजना के माध्यम से जल खेती और मत्स्य पालन करने वाले मजदूरो को सस्ता ऋण सरकार प्रदान करना चाहती है
  • मत्स्य पालन से जुड़े छोटे और सूक्ष्म उद्योग तक वित्त की सुविधा को आसान बनाना
  • लाभार्थियो को Incentive देकर एक्वा कल्चर बीमा ख़रीदने के लिए प्रोत्साहन देना जिससे बीमारियो को कम किया जा सके
  • Safety और Quality assurance System को समर्थन देना और विकसित करना जिससे मछली और उसके उत्पादों का रखरखाव ठीक से किया जा सके
  • मछली उद्योग को बढ़ाना जिससे काम के नए अवसर लोगो को मिल सके
  • महिलाओं को कार्यस्थल पर सुरक्षा की भावना महसूस करने के लिए प्रयास करना
  • बिज़नेस में पारदर्शिता और कम्फर्ट की सुविधा प्रदान करना
  • नेशनल फिशरीज डिजिटल प्लेटफॉर्म, मछुआरों को प्रशिक्षण, साक्षरता में सुधार और प्रोजेक्ट में सहायता करने जैसे महत्वपूर्ण कार्य करता है
  • एक्वाकल्चर बीमा करवाने वाले किसान को 1 लाख रुपये का प्रोत्साहन दिया जाता है
  • योजना से 75,000 महिलाओं को रोजगार मिलेगा राष्ट्रीय मत्स्य पालन डिजिटल प्लेटफॉर्म बनने से 40 लाख लघु और सूक्ष्म उद्योगो को लाभ मिलेगा
  • 6.5 लाख सूक्ष्म उद्योगो और 6000 मत्स्य सहकारी समितियां को केंद्र सरकार की इस Loan Scheme का लाभ मिलेगा
  • इस योजना से 1.7 लाख नई नौकरियां मिलने का अनुमान है, इस योजना का लक्ष्य सूक्ष्म और लघु उद्योग के लिए 5.4 लाख नए रोजगार के अवसर पैदा करना है
  • इस योजना का लाभ जल खेती करने वाले सभी मछुआरे, मछली विक्रेता और मजदूर ले सकेन्गे
  • मछली उद्योग और श्रृंखला से जुडी फ़र्म, साझेदारी फर्में, पंजीकृत कंपनी, एलएलपी, एसएचजी और विशेष कर महिलाएं इस योजना के लिए आवेदन कर सकती हैं।

PM-MKSSY Loan Scheme : पात्रता मापदंड

  • आवेदक भारत का नागरिक होना चाहिए
  • योजना के लिए जल खेती करने वाले किसान के अलावा, मछुआरे और महिलाएं आवेदन कर सकती हैं
  • मत्स्य पालन के सूक्ष्म एवं लघु उद्यमी आवेदन करने के पात्र होंगे
  • मछली उत्पादक किसान संगठन ऋण योजना के लिए आवेदन कर सकते है

PM-MKSSY Loan Scheme : आवश्यक दस्तावेज

  • एड्रेस प्रूफ- आधार कार्ड, पासपोर्ट, राशन कार्ड
  • बिजली बिल
  • वोटर आईडी
  • आय प्रमाण-आईटीआर
  • बैंक पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

PM-MKSSY Loan Scheme : आवेदन कैसे करें?

ये योजना अभी शुरू नहीं हुई है, केंद्र सरकार की तरफ से केवल यही घोषणा हुई है कि सरकार मत्स्य पालन उद्योग को औपचारिक रूप देगी और 6000 करोड़ का निवेश करेगी।

इस योजना से पानी से खेती करने वाले किसान के अलावा मत्स्य उद्योग से जुड़े मजदूर और महिलाओ को कम ब्याज पर लोन मिल पायेगा। सरकार की फंडिंग से मत्स्य उद्योग का बुनियादी ढांचा मजबूत होगा।

जैसी ही योजना पर लोन की प्रक्रिया शुरू होगी लोन से संबंधित सभी जानकारी शेयर कर दी जाएगी

PM-MKSSY Loan Scheme : Conclusion

PM-MKSSY Loan Scheme बड़े बजट के साथ घोषित हुई पहली योजना है जिसका प्रत्यक्ष लाभ मछली उद्योग से जुड़े हर वर्ग को होगा युवाओं को नौकरी के नए ऑफर मिलेंगे

PM-MKSSY Loan Scheme बड़े बजट के साथ घोषित हुई पहली योजना है जिसका प्रत्यक्ष लाभ मछली उद्योग से जुड़े हर वर्ग को होगा युवाओं को नौकरी के नए ऑफर मिलेंगे

PM-MKSSY Loan Scheme : FAQ

Q : PM-MKSSY योजना के लिए भारत सरकार क्या कर रही है?

A: केंद्र सरकार मत्स्य पालन उद्योग के लिए आगे आने वाले 4 सालो में 2023-24 से 2026-27 तक 6000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी

Q : PM-MKSSY योजना में महिलाओं को भी क्या लोन मिल सकता है?

A: हां, PM-MKSSY योजना में आवेदन करने के लिए महिलाएं भी पात्र होंगी, इस योजना के तहत 75,000 महिलाओं को नौकरी मिलेगी

Q : PM-MKSSY योजना का उद्देश्य क्या है?

A: PM-MKSSY योजना मछली और मछली उत्पाद की गुणवत्ता में सुधार करने, उत्पादन में वृद्धि करने व्यवसाय को पारदर्शी बनाना और नई नौकरियों के ऑफर उत्पन्न करने के लिए लाई गई है

नमस्ते दोस्तो! मेरा नाम अनिता गुप्ता है, मुझे फाइनेंस से जुड़े विषयों पर लेख द्वारा जानकारी साझा करना अच्छा लगता है जिससे किसी जरूरतमंद को मदद मिल सके, भविष्य में भी हम इस प्रकार के उपयोगी पोस्ट लाते रहेंगे यही हमारा प्रोआईटी न्यूज़ वेबसाइट को बनाने का उद्देश्य है। धन्यवाद!

Leave a Comment