सोलर रूफटॉप पैनल योजना 2024: पंजीकरण, उद्देश्य, लाभ, ऑनलाइन कैसे आवेदन करें, पूरी जानकारी!

1
110
सोलर

सोलर रूफटॉप पैनल योजना भारत सरकार द्वारा बिजली कटौती करने और बिजली के ऊंचे रेट से आम भारतीयों को राहत देने के लिए लागू की गई है इस योजना का लाभ कोई भी ले सकता है। इस योजना को नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय जो भारत सरकार के तहत कार्य करता है के द्वारा चलायी गयी है।

1.सोलर रूफटॉप पैनल योजना 2024 का उद्देश्य

इस योजना को लाने का उद्देश्य बिजली की आवश्यकता को सौर ऊर्जा से पूरा करके भारत सरकार के हरित ऊर्जा कार्यक्रम को समर्थन देना है, इस योजना में सरकार की ओर से मध्यम वर्ग और गरीब लोगो के घरों की छत पर सौर ऊर्जा प्रणाली लगाने के लिए सब्सिडी दी जा रही है, जिससे बिजली की ऊंची दरों से राहत मिलेगी।

भारत की ऊर्जा स्वतंत्रता बढ़ेगी सोलर रूफटॉप पैनल योजना 2024 सरकार द्वारा भारत के आम नागरिकों के हित के लिए चलाई जा रही है जिसका आम लोगो को वित्तीय लाभ होगा और सरकार का सौर ऊर्जा/अक्षय ऊर्जा को बढ़ावा देने का लक्ष्य पूरा होगा, सोलर पैनल को घर की छत पर, किसी वाणिज्यिक भवन की छत पर, या किसी संगठन की छत पर लगाया जा सकता है।

पैनल के द्वारा सूरज की गर्मी को ऊर्जा में परिवर्तित करके इकट्ठा किया जा सकता है इस ऊर्जा का उपयोग घर की बिजली आपूर्ति के रूप में किया जाता है सौर ऊर्जा पैनल के उपयोग से कई डायरेक्ट और इन-डायरेक्ट लाभ होते हैं बिजली के बिल में कटौती, सूरज की रोशनी का अच्छा उपयोग, समय बे समय बिजली की आपूर्ति रुकने की समस्या से मुक्ति, सरकार की तरफ से मिलने वाली सब्सिडी का लाभ, पर्यावरण को समर्थन आदि फायदे मिलते हैं।

सोलर रूफटॉप योजना

2.सोलर रूफटॉप पैनल योजना 2024 की विशेषताएं

भारत सरकार द्वारा बिजली स्टेशनों पर निर्भरता को कम करने के लिए सब्सिडी आधारित सोलर रूफटॉप योजना जारी की गई है इसकी कुछ विशिष्ट विशेषताओं का विवरण नीचे दिया जा रहा है-

  • सोलर रूफटॉप पैनल को किसी संस्थागत भवन पर लगा कर 30-50% बिजली की खपत को कम किया जा सकता है।
  •  सोलर पैनल लगाने की लागत 5-6 साल में ही निकल आती है और ये पैनल 20-25 साल तक ऊर्जा प्रदान कर सकते हैं।
  • किसी घर की छत पर 3 किलोवाट का सोलर पैनल लगाने पर 40% की सब्सिडी और किसी संस्थान/संगठन पर 4-10 किलोवाट का सोलर पैनल लगाने पर अतिरिक्त 20% की सब्सिडी भारत सरकार प्रदान करती है।
  • आरईएससीओ(नवीकरणीय ऊर्जा सेवा कंपनी) मॉडल आधारित या सोलर पैनल का स्वयं परिनियोजन (डिप्लोयमेंट) करने पर सरकार द्वारा नियमानुसार राहत दी जाती है।
  • सोलर पैनल लगाने के लिए न्यूनतम 10 वर्ग मीटर की छत होनी चाहिए।
  • सोलर पैनल कार्यान्वयन संबंधित अतिरिक्त जानकारी के लिए जिला स्तरीय ऊर्जा कार्यालय से संपर्क किया जा सकता है।

3.सोलर रूफटॉप पैनल योजना 2024 के लिए ऑनलाइन कैसे आवेदन करें?

भारत सरकार द्वारा सोलर रूफटॉप योजना 2024 की सब्सिडी लेने के लिए राष्ट्रीय पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा, आपको ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया चरण दर चरण नीचे दी जा रही है-

ऑनलाइन आवेदन

  • भारत सरकार की आधिकारिक वेबसाइट pmsuryaghar.gov.in पर जाएं।
  • पीएम सूर्य घर पोर्टल’ ओपन करें, ‘यहां रजिस्टर करें’ पर क्लिक करें।
  •  ‘राज्य एवं विद्युत वितरण कंपनी’ चयन करें।
  •  सभी आवश्यक जानकारी जैसे, बिजली उपभोक्ता नंबर(इलेक्ट्रीसिटी कंसूमर संख्या), ईमेल आईडी, अपना मोबाइल नंबर आदि दर्ज करें।
  •  बिजली उपभोक्ता संख्या और मोबाइल नंबर दर्ज करके पोर्टल पर लॉगिन करें।
  • सोलर रूफटॉप के लिए फॉर्म भरें, आवेदन करें।
  • वितरण कंपनी ‘डिस्कॉम‘ की मंजूरी का इंतजार करें
  • ‘डिस्कॉम’ की मंजूरी के बाद सोलर प्लांट लगाया जा सकता है।
  • बिलिंग मैकेनिज्म ‘एनईटी मीटरिंग‘ के लिए आपको प्लांट डिटेल सबमिट करनी होगी।
  •  ‘डिस्कॉम’ से ‘सोलर प्लांट प्रमाणपत्र मिलने के बाद पोर्टल पर सब्सिडी के लिए बैंक विवरण और अन्य आवश्यक विवरण प्रदान करें।
  •  30 दिनों में सब्सिडी बैंक खाते में आ जायेगी।
  • महत्वपूर्ण लिंक- रूफटॉप सोलर पैनल योजना के लिए राष्ट्रीय पोर्टल

4.सोलर रूफटॉप पैनल योजना 2024 के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • डिस्कॉम‘ द्वारा जारी किया गया नेट मीटरिंग ‘सर्टिफिकेट’
  • आधार कार्ड की स्कैन की हुई कॉपी
  • स्थान फोटोग्राफ(स्थापना के बाद)
  • लाभार्थी का फोटो
  • बिजली का हालिया बिल
  • लाभार्थी का बैंक पासबुक

दस्तावेज

5.सोलर रूफटॉप पैनल योजना 2024 के लाभ

  • सौर ऊर्जा का उपयोग करने की जागृति बढ़ेगी जिससे आने वाले समय में सौर ऊर्जा योजना अपनाने की दर ऊंची होगी।
  • सौर ऊर्जा पैनल घर की छत पर लगाने से घर का बिजली बिल कम होगा।
  • कोयला, तेल जैसे जीवाश्म ईंधन का उपयोग कम होगा जिससे प्रदूषण पर नियंत्रण होगा।
  • बिना किसी अतिरिक्त लागत के निःशुल्क ऊर्जा उपयोग करने के प्रति लोगो की रुचि बढ़ेगी।
  • जो परिवार सोलर रूफटॉप योजना के अंतर्गत सोलर पैनल अपने घर की छत पर लगायेंगे उन्हें 300 यूनिट मुफ्त बिजली दी जाएगी।
  • भारत का नवीकरणीय ऊर्जा भंडार 2023 तक 500 गीगावाट हो जाएगा जिसमें सौर ऊर्जा शेयर 292 गीगावाट होगा जिससे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की हरित ऊर्जा क्षेत्र में धमक बढ़ेगी।
  • सोलर रूफटॉप पैनल लगाने वाले परिवार का 30-50% तक बिजली का खर्च कम होगा जिससे परिवार को 15-18,000 रुपये प्रति वर्ष का लाभ हो सकता है।
  • सोलर रूफटॉप योजना 2024 का लाभ 1 करोड़ परिवारों को मिलेगा।

नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय

6.सोलर रूफटॉप पैनल योजना 2024 के पात्रता मानक

अगर आप भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही योजना में सब्सिडी का लाभ लेना चाहते हैं और सोलर पैनल लगाकर मुफ्त में बिजली का उपयोग करके बिजली का बिल कम करना चाहते हैं तो आपको योजना की शर्तों पर खरा उतरना होगा जिसका विवरण नीचे दिया गया है-

  • योजना की पहली शर्त यह है कि आवेदक को भारत का मूल निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक के नाम पर घर पंजीकृत होना चाहिए जिसकी छत पर सोलर पैनल लगाया जा सके।
  • आवेदक की न्यूनतम आयु 18 वर्ष होनी चाहिए।

7.सोलर रूफटॉप पैनल योजना 2024 सब्सिडी वितरण 

सोलर रूफटॉप योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करें, पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर सभी आवश्यक विवरण, दस्तावेज आदि की जानकारी लें। केंद्र सरकार द्वारा सोलर योजना के तहत सब्सिडी विवरण नीचे दी गई तालिका में स्पष्ट किया जा रहा है-

सब्सिडी

सब्सिडी विवरण

8.सोलर रूफटॉप पैनल योजना 2024 कैलकुलेटर 

सोलर रूफटॉप योजना केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही है, जिसके तहत दी जाने वाली सब्सिडी का लाभ ऑनलाइन आवेदन करके लिया जा सकता है।

राष्ट्रीय पोर्टल पर सोलर रूफटॉप पैनल का कैलकुलेटर प्रदान किया गया है जिस पर आवेदक सौर पैनल की संख्या, जनरेट हुई ऊर्जा को भरके वास्तविक ऊर्जा लागत का पता लगा सकता है और राज्य स्तर पर सब्सिडी विवरण की जानकारी राष्ट्रीय पोर्टल के माध्यम से ली जा सक्ती है।

कैलकुलेटर

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न:

प्रश्न: एक घर के लिए कितनी बिजली की खपत होती है?

उत्तर: केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण(सीईए) के अनुसार भारत में प्रति व्यक्ति बिजली की औसत खपत 1200kWh(किलोवाट) प्रतिवर्ष है इसका मतलब यह है कि भारत में एक घर प्रतिवर्ष औसत 3600kWh(किलोवाट) बिजली का उपयोग करता है।

प्रश्न: 3kW सोलर सिस्टम से कितने एसी चला सकते हैं?

उत्तर: आप 3 किलोवाट सौर ऊर्जा प्रणाली का उपयोग करके आवश्यक घरेलू उपकरण के साथ 2 टन का एसी चला सकते हैं।

आपको सोलर रूफटॉप पैनल योजना 2024 पोस्ट में सोलर पैनल योजना  से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है यदि आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने मित्र मंडली में साझा करें और टिप्पणी करें

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here