रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड का आगामी आईपीओ: 16 मई को ओपन हो रहा है, जानें पूरी जानकारी!

0
46
रुल्का

आज कल रोजाना नए आईपीओ मार्केट में आ रहे हैं ऐसा ही एक आईपीओ है रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड आईपीओ जिसे 16 मई को सब्सक्रिप्शन के लिए कंपनी लेकर आ रही है अगर आप भी शेयर में निवेश करने का सोच रहे हैं तो ये पोस्ट आईपीओ सेलेक्ट करने में आपकी मदद कर सकता है, आज हम इस पोस्ट में रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड आईपीओ की सभी जानकारी शेयर करेगे।

Content Table

1.परिचय

i.रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड का संक्षिप्त अवलोकन

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड 2013 से बाजार में सक्रिय है कंपनी ग्राहकों को इलेक्ट्रिकल्स और अग्निशमन समाधान प्रदान करने के लिए जानी जाती है कंपनी मुख्य रूप से बी2बी ग्राहक प्रारूप पर काम करती है। कंपनी की सेवाएँ सौर ईपीसी अनुबंध, विद्युत भंडारण परियोजनाएँ, सौर दंड, डेटा और वॉयस केबलिंग स्थापना, रखरखाव आदि हैं।

ii.विद्युत उद्योग में कंपनी का महत्व

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड की उत्कृष्ट और विश्वसनीय सेवाओं के लिए सराहना की गई है, रुल्का की इलेक्ट्रिकल इंडस्ट्री में नीचे दी गई सेवाओं और गतिविधियों का महत्व बताया गया है।

  • निर्धारित और लागत प्रभावी प्रक्रिया, कंपनी के ग्राहक को पहले दिन से आखिरी दिन तक एक प्रोजेक्ट के शेड्यूल का तरीका और प्रक्रिया किफायती होने की गारंटी दी जाती है।
  • कंपनी के पास मार्केटिंग और सर्विसिंग के लिए तकनीकी रूप से प्रशिक्षित इंजीनियर हैं। कंपनी प्रोजेक्ट एप्लिकेशन के लिए पहले अध्ययन करती है, इसके बाद आवश्यकता के अनुसार कार्यान्वयन करती है।
  • कंपनी अपने ग्राहकों की अंतिम उत्पाद के लिए उनकी उम्मीदें पूरी करती है और गारंटी देती है।
  • कंपनी अपनी सेवा में ईमानदारी से काम करना, सत्यनिष्ठा और कार्य के प्रति महान मूल्यों को महत्व देती है कंपनी व्यक्तिगत सेवा प्रदान करती है।

2.कंपनी का इतिहास और पृष्ठभूमि

i.रुल्का इलेक्ट्रिकल्स की स्थापना

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स को 30 मई 2013 को कंपनी अधिनियम 1956 के प्रावधान के अनुसार कंपनी रजिस्ट्रार मुंबई महाराष्ट्र  में रुलका इलेक्ट्रिकल्स प्राइवेट लिमिटेड’ के रूप में पंजीकृत किया गया, अगस्त 2023 में कंपनी को लिमिटेड कंपनी में कन्वर्ट कर दिया गया और कंपनी रजिस्ट्रार में ‘रुलका इलेक्ट्रिकल्स’ लिमिटेड’ का नाम दिया गया।

ii.रुल्का इलेक्ट्रिकल लिमिटेड का विकास और मील के पत्थर

इलेक्ट्रिकल्स सेवा प्रदाता कंपनियों में रुल्का इलेक्ट्रिकल्स एक जाना माना नाम है, ये मुंबई स्थित एकीकृत इलेक्ट्रिकल सर्विस कंपनी है, रुल्का को 2024 के लिए 16 करोड़ रुपये के वर्क ऑर्डर भारत की शीर्ष कंपनियों से प्राप्त हुए हैं, ये ऑर्डर इलेक्ट्रिकल्स और अग्निशमन क्षेत्रों के ऑर्डर है और आंध्र, गुजरात, हरियाणा राज्यों की कंपनियों के हैं।

रुल्का एक अग्रणी परियोजना ठेकेदार कंपनी है जो इलेक्ट्रिक सॉल्यूशंस, अग्निशमन प्रणाली और सौर ईपीसी अनुबंध सेवा देती है, कंपनी इलेक्ट्रिक वाणिज्यिक और औद्योगिक सेवा भी प्रदान करती है। कंपनी ने रखरखाव सेवा और डेटा और वॉयस केबलिंग इंस्टालेशन में भी एक मील का पत्थर स्थापित किया है जिसमें औद्योगिक, वाणिज्यिक, रिटेल और थिएटर शामिल हैं।

कंपनी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नए बाजार क्षेत्रों में अपना बिजनेस ले जाने के लिए प्रयास कर रही है, सफलता के इसी चरण में रूलका अपना आईपीओ लेकर आ रही है, आईपीओ से इकट्ठा किये फंड को अपने बिजनेस को घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बूस्टअप करने में उपयोग करने की योजना बना रही है।

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स

iii.उल्लेखनीय उपलब्धियाँ और मान्यताएँ

वित्तीय वर्ष 2023 के पहली छमाही में रुलका ने 36.44 करोड़ रुपये और 3.05 करोड़ का राजस्व और PAT (टैक्स के बाद लाभ) प्राप्त किया। जबकी वित्तीय वर्ष 2022-23 के पहली छमाही में रुलका का मुनाफा 46.89 करोड़ रहा, वित्तीय वर्ष 2021-22 में 36.27 करोड़ से काफ़ी ज़्यादा था. वित्तीय वर्ष 2022-23 का PAT 2.80 करोड़ वित्तीय वर्ष 2021-22 के 1.12 करोड़ की तुलना में बढ़ गया।

3.उत्पादों और सेवाओं की पेशकश

i.विद्युत उत्पादों की रेंज

कंपनी एचवी और एलवी पैनल के लिए नवीनतम तकनीक के साथ डिजाइन और इलेक्ट्रिकल सर्विस देती है। कंपनी विद्युत सेवा क्षेत्र में अपना मजबूत हाथ रखती है इसकी मुख्य विद्युत सेवाओ में विद्युत पैनल, वेयर हाउसिंग प्रोजेक्ट ठेकेदार, औद्योगिक विद्युतीकरण, संरचना केबलिंग, एलटी केबलबिछाने  की सेवा, विद्युत ऊर्जा ऑडिट और सौर पैनल शामिल हैं।

ii.नवीन समाधान और प्रौद्योगिकी

कंपनी 1 दशक से विद्युत सेवा के क्षेत्र में कार्य कर रही है, किसी भी संगठन के विकास में नवीनतम सुविधा और प्रौद्योगिकी की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

  • कंपनी ने ग्राहकों की मांग के अनुसार उच्च प्रौद्योगिकी आधारित बुनियादी ढांचे का विकास किया है, जिससे ग्राहक के ऑर्डर उनकी आवश्यकता के अनुसार पूरा किये जा सके।
  • रुल्का ने सभी इलेक्ट्रिक उत्पादों के उत्पादन और परीक्षण के लिए आवश्यक मशीनें और उपकरण लगाए हैं, सभी मशीनों को नवीनतम तकनीक के अनुसार नियमित अपडेट किया जाता है जिससे ग्राहक को उनकी आवश्यकताओं के अनुरूप नवीनतम तकनीक से सम्पन्न उत्पाद समय पर वितरित किये जा सके।

iii.ग्राहक वर्ग और बाज़ार उपस्थिति

रुल्का का सेवा क्षेत्र काफी बड़ा है इसके ग्राहक गोदाम, खुदरा, औद्योगिक और होटल/अस्पताल क्षेत्रों से हैं।

  • वेयरहाउस ग्राहक

वेयरहाउस क्षेत्र की शीर्ष कंपनियों के ग्राहकों में होंडा, रिलायंस, एफएम लॉजिस्टिव, आरजीएल, मेट्रो, बिग बास्केट, राइटर, इंडोस्विफ्ट, फर्स्टक्राई, डीसीबी बैंक आदि शामिल हैं।

  • खुदरा ग्राहक

खुदरा क्षेत्र में नामी गिरामी कंपनियों से ट्रेडिंग होती है कंपनी के खुदरा ग्राहक डी मार्ट, पीवीआर आईनॉक्स, लाइफस्टाइल, बिगबास्केट, सिनेलाइन, शॉपर्स स्टॉप, ईआरओएस इंटरनेशनल आदि हैं।

  • औद्योगिक ग्राहक

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड औद्योगिक क्षेत्र के लिए भी सेवाएँ प्रदान करती है कंपनी के औद्योगिक ग्राहक है जेएसडब्ल्यू, फाइन ऑर्गेनिक्स, एपलैब, रुनवाल ग्रुप, आईवीपी, एमएएस, टीजी ग्रुप, मास्टेक, उर्मि ग्रुप शामिल हैं।

  • होटल/अस्पताल ग्राहक

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स होटल और अस्पताल में इलेक्ट्रिकल पहलू से संबंधित सेवाएँ प्रदान करती है, कई नामी-गिरामी होटल इसके ग्राहक हैं जिनमें से खास है ओबेरॉय, रेडिसन ब्लू, नानावटी सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल, बॉम्बे हॉस्पिटल एंड मेडिकल रिसर्च सेंटर, हिंदुजा, सोमैया जैसे भारत के टॉप ग्रुप शामिल हैं।

बाजार में उपस्थिति

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड गुरुवार 16 मई को अपना आईपीओ सदस्यता के लिए जनता के सामने रख रही है, आईपीओ में 21 मई तक निवेश किया जा सकता है, आईपीओ शुक्रवार 24 मई को एनएसई, एसएमई पर सूची होगा।

4.उद्योग प्रभाव और योगदान

i.विद्युत क्षेत्र को आगे बढ़ाने में रुल्का इलेक्ट्रिकल्स की भूमिका

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड वर्तमान में इंजीनियरिंग, इंस्टालेशन, कमीशनिंग, आगामी परियोजनाओं और संयंत्रों के लिए संचालन और रखरखाव सेवा प्रदान करती है। रुल्का वाणिज्यिक, औद्योगिक, आवासीय परिसर, उपयोगिताएँ और दूरसंचार की विद्युत सेवा प्रदान करती है।

विद्युत क्षेत्र में कंपनी के पास समर्पित और तकनीकी रूप से प्रशिक्षित स्टाफ है जिन्हें समय-समय पर ट्रेंड के अनुसार ट्रेनिंग दी जाती है, इलेक्ट्रिकल सर्विसेज की फील्ड में रुल्का आज एक जाना माना ब्रांड है, इसके बड़े ग्राहक हैं आईटीसी लिमिटेड, टाटा टेलीसर्विसेज लिमिटेड, ऑडी, एसबीआई बैंक, फ्लिपकार्ट, स्नैपडील, डी मार्ट जैसे ब्रांड शामिल है।

5.वित्तीय प्रदर्शन और बाज़ार स्थिति

i.वित्तीय डेटा और प्रदर्शन मेट्रिक्स का विश्लेषण

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड का 31 मार्च 21-22 और 23 को वित्तीय वर्ष के अंत में राजस्व 9.82 करोड़ रुपये से बढ़कर 19.19 करोड़ रुपये हो गया और 28.27 करोड़ रुपये हो गया जबकी टैक्स के बाद लाभ 0.54 करोड़ रुपये से बढ़कर 1.12 करोड़ रुपये से बढ़कर 2.81 करोड़ रुपये हो गया।

ii.बाजार हिस्सेदारी और प्रतिस्पर्धी परिदृश्य

कंपनी अपना बुक बिल्डिंग रूट आईपीओ जोकी 1123200 इक्विटी शेयर का है 16 मई को लेकर आ रही है जिसका प्रति शेयर मूल्य 10 रुपये होगा कंपनी आईपीओ से 26.40 करोड़ रुपये जुटाना चाहती है।

इस इश्यू में 842400 फ्रेश इक्विटी शेयर है जिनकी लागत 19.80 करोड़ रुपये है और 280800 ओएफएस शेयर है जिनकी लागत 6.60 करोड़ रुपये है, प्रति शेयर मूल्य बैंड 223-235 होगा, न्यूनतम 600 शेयर के लिए आवेदन किया जा सकता है, आईपीओ खुलने की तारीख 16 मई और समापन 21 मई को होगा।

नवीनतम परियोजनाएँ

6.आईपीओ का विवरण

  • आईपीओ सदस्यता खुलने की तिथि- 16 मई 2024
  • आईपीओ सदस्यता बंद होने की तिथि- 21 मई 2024
  • अंकित मूल्य- 10 रुपये प्रति शेयर
  • मूल्य बैंड- 223-235 रुपये प्रति शेयर
  • लॉट साइज- 600 शेयर
  • कुल इश्यू साइज- 1123200 शेयर
  • ताज़ा अंक- 842400 शेयर
  • इश्यू टाइप- बुक बिल्ट इश्यू आईपीओ
  • रुल्का इलेक्ट्रिकल्स आवंटन तिथि – 22 मई 2024
  • एनएसई एसएमई लिस्टिंग- 24 मई 2024

i.रणनीतिक साझेदार या अधिग्रहण

रुल्का इक्विटी शेयर नियुक्ति

  • योग्य संस्थागत क्रेता – शुद्ध निर्गम 50%
  • गैर संस्थागत निवेशक-नेट इश्यू का 15%
  • खुदरा व्यक्तिगत निवेशक-नेट इश्यू का 35%

7.आईपीओ लाने का कारण

i.विस्तार योजनाएँ

रुल्का आईपीओ से इकट्ठा किया गया फंड नीचे दी गई आवश्यकताओं के लिए उपयोग करना चाहती है-

आरएचपी दस्तावेजों के अनुसार आईपीओ से प्राप्त शुद्ध आय के 14 करोड़ का उपयोग कंपनी अपनी वाणिज्यिक गतिविधि के विस्तार के लिए और कार्यशील पूंजी की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए उपयोग करना चाहती है।

बीलाइन कैपिटल एडवाइजर्स प्राइवेट लिमिटेड रुल्का इलेक्ट्रिकल्स के बुक रनिंग लीड मैनेजर है जबकी बिगशेयर सर्विस प्राइवेट लिमिटेड इश्यू के रजिस्ट्रार हैं रुल्का इलेक्ट्रिकल्स के बाजार निर्माता सूरजमुखी ब्रोकिंग है।

8.कॉर्पोरेट संस्कृति और मूल्य

i.नैतिक मानक और कॉर्पोरेट प्रशासन

अनुपालन और विनियमन

किसी कंपनी को सरकार के व्यापार कानूनों के अनुसार व्यापार करना होता है और संबंधित विभाग की नियामक निकायों के दिशानिर्देश व्यापार निकायों के लिए समय-समय पर जारी की जाती है।

व्यापार/व्यापार इकाइयों को बीआईएस अधिनियम (भारतीय मानक ब्यूरो) का पालन करना होता है जो उत्पाद और मैटरेल की गुणवत्ता को मॉनिटर करता है। बीआईएस द्वारा नवीकरणीय ऊर्जा मानक को बनाए रखने के लिए समय-समय पर रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड को सूचित किया जाता है।

केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण विनियमन 2010, सुरक्षा और विद्युत आपूर्ति को मापता है, विद्युत लाइनों और उपकरणों की हैंडलिंग और संचालन के अनुसार प्रशिक्षण सत्र चलाता है।

हितधारक जुडाव

रुल्का ने सेबी लिस्टिंग विनियमन 2015 के अनुसार हितधारक संबंध समिति बनाई है-

  • श्री संदीप जानू सावंत-अध्यक्ष- स्वतंत्र निदेशक
  • निशि जयंतीलाल जैन-सदस्य- स्वतंत्र निदेशक
  • मिलिंद रामनाथ धूमल-सदस्य- स्वतंत्र निदेशक
  • नितिन इंद्रकुमार अहेर-सदस्य- पूर्णकालिक निदेशक

रुल्का प्रत्येक ग्राहक के साथ व्यक्तिगत आकार के अनुसार व्यवहार करती है और कंपनी के लिए प्रत्येक कर्मचारी महत्वपूर्ण संपत्ति है।

ट्रैक रिकॉर्ड और प्रदर्शन

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स का प्रदर्शन और ट्रैक रिकॉर्ड टेबल के द्वार शो किया गया है-

राजस्व विवरण

कॉर्पोरेट गवर्नेंस फ्रेमवर्क

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड की बोर्ड संरचना विवरण नीचे दिया जा रहा है-

  • आज़ाद अशोक जीनवाल- मुख्य वित्तीय अधिकारी
  • केजल निकेन शाह- सह सचिव एवं शिकायत अधिकारी
  • मिलिंद रामनाथ धूमल- स्वतंत्र निदेशक
  • निशि जयंतीलाल जैन- स्वतंत्र निदेशक
  • नितिन इंद्रकुमार अहेर- पूर्णकालिक निदेशक
  • रूपेश लक्ष्मण कसावकर- अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक
  • संदीप जानू सावंत- स्वतंत्र निदेशक
नैतिक आधार

राष्ट्रीय पर्यावरण नीति के कुछ महत्वपूर्ण उद्देश्य हैं जिनका व्यावसायिक इकाइयों को पालन करना होता है वायु प्रदूषण की रोक थाम और नियंत्रण के लिए वायु अधिनियम 1981, जल प्रदूषण की रोकथाम और नियंत्रण के लिए जल अधिनियम 1974 का पालन करना होता है किसी भी राज्य में व्यवसाय चलाने के लिए संबंधित राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की अनुमति लेनी होती है।

9.नवीनतम परियोजनाएँ और साझेदारी

i.अग्रिम परियोजनाएँ

रुल्का इलेक्ट्रिकल लिमिटेड ने इलेक्ट्रिकल क्षेत्र में नए परिवर्तन लाने के उद्देश्य से नए प्रोजेक्ट की एक, सीरीज शुरू की है, कंपनी को साल की शुरुआत में 16 करोड़ के वर्क ऑर्डर मिले हैं। बिजली क्षेत्र की सबसे तेजी से बढ़ती कंपनी बिजली समाधान दे रही है, इसके साथ ही एडवांस टेक्नोलॉजी भी इम्प्लीमेंट कर रही है जिससे नए प्रोजेक्ट के माध्यम से प्रगति के साथ स्थिरता भी आ रही है।

ii.सामरिक भागीदारी

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड बिजनेस लीडर्स और नए इनोवेटर्स की रणनीतिक साझेदारी के कारण सफल है, रणनीतिक सहयोग की मदद से रुल्का इलेक्ट्रिकल्स अपनी क्षमताओं में सुधार करती है अपनी तकनीकी पहुंच को बढ़ाती है और प्रगति और नवाचार के अवसरों को उजागर करती है।

iii.नए इनोवेशन पर फोकस

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड के अनुसंधान के केंद्र में, नए नवाचार है। उन्नत प्रौद्योगिकी और रचनात्मकता की मदद से कंपनी, विद्युत क्षेत्र जो सर्वोत्तम संभव है, उसके लिए प्रयास कर रही है।

iv.बाजार पर प्रभाव

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स की सफ़लता बाज़ार पर इसके प्रभाव को प्रदर्शित करती है, मार्केट की टॉप-नोच कंपनियां, होटल इसके बिजनेस क्लाइंट हैं, इसके नए प्रोजेक्ट और पार्टनरशिप मार्केट पर सकारात्मक प्रभाव डाल रहे हैं।

10.बाज़ार विश्लेषण

रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड का आईपीओ जीएमपी +100 है ये बताता है कि रुल्का इलेक्ट्रिकल्स का शेयर मूल्य ग्रे मार्केट में 100 रुपये के प्रीमियम पर ट्रेंड कर रहा है; ग्रे मार्केट में मौजूदा प्रीमियम और आईपीओ प्राइस बैंड को देखते हुए रुल्का इलेक्ट्रिकल्स का संभावित लिस्टिंग मूल्य 335 रुपये प्रति पीस होने का अनुमान है जोकि आईपीओ की कीमत 235 रुपये से 42.55% ज्यादा है।

सामान्य प्रश्न

प्रश्न: एनएसई पर आईपीओ कब लिस्ट होता है?

उत्तर: आईपीओ लिस्टिंग की तारीख पर सुबह 9.00 बजे सूची होता है। स्टॉक एक्सचेंज पर पहले 60 मिनट के लिए बेहतर मूल्य की खोज के लिए विशेष प्री-ओपन सत्र होता है, सुबह 10 बजे। आईपीओ शेयरों की नियमित ट्रेडिंग शुरू हो जाती है।

प्रश्न: लिस्टिंग के तुरंत बाद क्या आईपीओ शेयर को बेचा जा सकता है?

उत्तर: एक खुदरा निवेशक जिसे आईपीओ में आवंटन मिला है, लिस्टिंग की तारीख पर या उसके बाद, कभी भी अपने शेयरों को बेच सकता है।

प्रश्न: आईपीओ किस समय आवंटित किया जाता है?

उत्तर: लागू शेयरों को उनके ट्रेडिंग और डीमैट खातों में सफलतापूर्वक जमा करने को आईपीओ आवंटन कहा जाता है। इस प्रक्रिया में 1 सप्ताह का समय लगता है, इस अवधि में आवंटन होता है।

इन्हें भी पढ़े

आधार हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड आईपीओ: वह सब कुछ जो आपको जानना आवश्यक है

आपको रुल्का इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड का आगामी IPO पोस्ट में रुल्का इलेक्ट्रिकल्स IPO से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है यदि आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने मित्र मंडली में साझा करें। और टिप्पणी करें।

अस्वीकरण

आईपीओ में पैसा निवेश करने से पहले शेयर बाजार विशेषज्ञ से सुझाव जरूर लें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here