वाइब्रेंट Gujarat ग्लोबल Summit 2024 : 51 अरब डॉलर का निवेश

2
32
वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट 2024

वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट जिसकी परिकल्पना 2003 में मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के दूरदर्शी नेत्रत्व में की गई थी, आज वो समिट समावेशी सतत विकास के व्यापरिक सहयोग, ज्ञान साझा करने और रणनीतिक साझेदारी के लिए सबसे प्रतिष्ठित ग्लोबल मंचो में से एक के रूप में विकसित हुआ है।

वाइब्रेंट गुजरात समिट के उदघाटन समारोह में बोलते हुए रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने समिट की सफलता का श्रेय नरेंद्र मोदी को दिया वाइब्रेंट गुजरात समिट का आयोजन मोदी के गुजरात के मुख्यमंत्री रहने के दौरन से ही हो रहा है।

इस शिखर सम्मेलन की शुरुआत 2003 में हुई थी, पहले शिखर सम्मेलन में 700 डेलीगेटसशामिल हुए थे, लेकिन अब इसमें हिस्सा लेने वाले डेलीगेटस की संख्या 1 लाख हो गई है। मुकेश अंबानी ने कहा कि जब पीएम मोदी बोलते हैं तो पूरी दुनिया सुनती है।

वाइब्रेंट गुजरात समिट के विशेष आकर्षण

  • 100 से अधिक वैश्विक कंपनियों ने भाग लिया
  • भारत के अंतर्राष्ट्रीय निर्यात में 33% की भागीदारी
  • पीएम मोदी को अंबानी ने सबसे महान वैश्विक नेता बताया

समिट में लिए गए विशेष निर्णय 

  • फिनटेक सिटी गिफ्टसिटी की कंपनियों को डायरेक्ट लिस्टिंग का मौका मिलेगा
  • भारत दुनिया का नंबर 1 ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरिंग हब बनेगा
  • बिजली और जेब ईंधन से ट्रैक्टर और सार्वजनिक परिवहन चलेंगे
  • भारत इस साल ग्लोबल चिप निर्माण नक्शे पर स्थापित हो जाएगा, मेड इन इंडिया चिप साल के अंत तक आएगी
  • दुनिया के सेमीकंडक्टर उद्योग के मंच पर भारत का नक्शा भी दिसंबर 2024 से पहले स्थापित हो जाएगा
  • अमेरिकी सेमीकंडक्टर निर्माता कंपनी माइक्रोन के साणंद (गुजरात) स्थित फैक्ट्री से पहला चिप इस साल के अंत तक निकल जाएगा

अरबपति गौतम जिन्हे हाल ही में एशिया का सबसे अमीर व्यक्ति नामित किया गया था, ने वाइब्रेंट गुजरात वैश्विक सम्मेलन में घोषणा की कि वे भारत में 2 ट्रिलियन रुपये से अधिक का निवेश करेंगे। वाइब्रेंट गुजरात शिखर सम्मेलन के दौरन अडानी ने अलग-अलग क्षेत्रो में 50,000 करोड़ के निवेश का रिकॉर्ड बनाया जिससे 2025 तक 25,000 प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोज़गार उत्पन्न होंगे।

गुजरात

इसके बजाय राज्य में 55,000 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा की, उन्होंने कहा कि “समूह कच्छ में हरित ऊर्जा पार्क का निर्माण करने जा रहा है, जो अंतरिक्ष से दिखायी देगा और 30 गीगावाट क्षमता वाला 25 वर्ग किलोमीटर में फेल होगा’’। अडानी ने पीएम नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करते हुए उनके उल्लेखनीय दृष्टिकोण, ऊंचे लक्ष्य, सावधानी पूर्वक नेत्रत्व और दोष रहित कार्यान्न्वयन की प्रशंसा की।

अडानी ने कहा ”आप भविष्य की भविष्यवाणी नहीं करते हैं आप इसे आकार देते हैं” उन्होंने भारत को दुनिया का सबसे तेजी से विकास करने वाला देश बनाने और देश को ‘वसुधैब कुटुंबकम’ के दर्शन से प्रेरित वैश्विक सामाजिक चैंपियन के रूप में स्थापित करने का श्रेय प्रधानमंत्री को दिया।

शिखर सम्मेलन के दौरन उन्होंने ये भी कहा कि अडानी ग्रुप अगले 5 वर्षों में गुजरात में 2 लाख करोड़ रुपये से अधिक का निवेश करने का इरादा रखता है जिससे 1 लाख से अधिक प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष नौकरियां पैदा होंगी।

पीएम मोदी सबसे महान वैश्विक नेता

मुकेश अंबानी ने कहा कि ”मैं भारत के प्रवेश द्वार मुंबई से आधुनिक भारत के विकास के प्रवेश द्वार गुजरात तक आया हूं मुझे गुजराती होने पर गर्व है, जब विदेशी लोग भारत के बारे में सोचते हैं तो वे नए गुजरात के बारे में भी सोचते हैं, ये बदलाव कैसे हुआ? इस बदलाव की वजह एक नेता है जो हमारे समय के सबसे महान वैश्विक नेता के रूप में उभरे हैं। इस नेता का नाम पीएम मोदी है जो भारत के इतिहास में सबसे सफल पीएम हैं।

वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट की बात करते हुए मुकेश अंबानी ने कहा कि ”इस तरह का कोई और समिट 20 साल तक लगातार जारी नहीं रहा है, लेकिन ये समिट लगातार और भी शानदार होता जा रहा है, ये पीएम मोदी की दूरदर्शिता और निरंतरता का नतीजा है।” मैं कुछ भाग्यशाली लोगों शामिल रहा हूं, जिसने वाइब्रेंट गुजरात के हर शिखर सम्मेलन में भाग लिया है।

2047 तक 35 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनेगा भारत

रिलायंस चेयरमैन ने कहा कि पीएम मोदी ने 2 दशकों में गुजरात से ग्लोबल मंच तक की यात्रा की है, आज भारत के युवाओं के पास देश की अर्थव्यवस्था में प्रवेश करने के लिए सबसे अच्छा समय है उनको कहा कि आगे आने वाली पीढ़ियां राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत को स्थापित करने के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद देगी। पीएम मोदी ने विकसित भारत की नीव रखी है। दुनिया की कोई भी ताकत 2047 तक भारत को 35 ट्रिलियन की इकोनॉमी बनने से नहीं रोक पाएगी।

शिखर सम्मेलन

भारत पांच साल में बन जाएगा तीसरी बड़ी आर्थिक महाशक्ति

केंद्रीय गृह और सचिवालय मंत्री अमित शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी तीसरी बार पीएम बने तो अगले पांच साल में ही भारत को दुनिया की तीसरी आर्थिक महाशक्ति बना देंगे यह समिट का समापन नहीं वर्ष 2047 के विकसित भारत के सपने के पूरा होने की शुरुआत है। मोदी ने देश में आधारभूत सुधार किए हैं।

अमित शाह ने कहा है कि युग परिवर्तन का समय आ गया है। गुजरात मॉडल और मोदी के विजन को देखकर देश के लोगों ने 2014 में उन्हें भारत की कमान सौंपी थी। 10 साल में मोदी ने भारत को दुनिया की पांचवी आर्थिक महाशक्ति बना दिया। तीसरी बार मोदी प्रधानमंत्री बने तो अगले पांच साल में ही भारत दुनिया की तीसरी बड़ी आर्थिक महासत्ता बन जाएगा।

वाइब्रेंट गुजरात समिट 2024 में भाग लेने वाले भारत और दुनिया के उद्योगपति

  1.  श्री लक्ष्मी मित्तल, अध्यक्ष आर्सेलर मित्तल
  2. श्री तोशीहिरो सुजुकी, सुजुकी मोटर कॉर्पोरेशन जापान के अध्यक्ष
  3. श्री मुकेश अंबानी,रिलायंस ग्रुप
  4. श्री संजय मल्होत्रा ​​सीईओ माइक्रोन टेक्नोलॉजीज यूएसए
  5. श्री गौतम अदाणी, अध्यक्ष अदाणी ग्रुप
  6. श्री जेफरी चुन सीईओ सिमटेक, दक्षिण कोरिया
  7. श्री एन चन्द्रशेखरन, अध्यक्ष टाटा संस लिमिटेड
  8. श्री सुल्तान अहमद बिन सुलेयम, डीपी वर्ल्ड के अध्यक्ष
  9. श्री शंकर त्रिवेदी, सीनियर वीपी एनवीडिया
  10. श्री निखिल कामत, ज़ेरोधा के संस्थापक और सीईओ

FAQs:

Q: वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट में कौन सी कंपनियों ने निवेश किया?

A: ”भविष्य का प्रवेश द्वार” थीम के साथ रिलायंस, टाटा,अदानी ग्रुप, आर्सेलरमित्तल कुछ बड़े नाम हैं, जिन्होंने गुजरात में निवेश विस्तार की घोषणा की, इस प्रोग्राम में इनोवेटिव एनर्जी और सेमीकंडक्टर पर मुख्य फोकस किया गया है।

Q: वाइब्रेंट गुजरात वैश्विक शिखर सम्मेलन का निष्कर्ष क्या रहा?

A: वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट का 10वां संस्करण 12 जनवरी को 41299 प्रोजेक्ट के लिए एमओयू के साथ पूरा हुआ जिसके मेगा इवेंट के दौरान 26.33 लाख करोड़ के निवेश प्रस्तावों पर हस्ताक्षर किए गए।

आपको वाइब्रेंट Gujarat ग्लोबल Summit 2024 पोस्ट में Gujarat ग्लोबल Summit से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है यदि आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने मित्र मंडली में साझा करें।

इन्हें भी पढ़े:

National Digital Creators Award- 2024 की शुरुआत,जानें अवॉर्ड का उद्देश्य, प्रक्रिया, किस श्रेणी का कौन है Winner !

BPCL, Cochin हवाई अड्डे पर Green hydrogen plant स्थापित करेगा

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here