Home Blog

वास्तविक घटनाओं पर आधारित Top 5 Web Series: जिन्हे आप OTT Netflix पर देख सकते हैं पूरी डिटेल!

हमारे आस-पास घटी घटनाएं नई फिल्मो के बनने का आधार बनती है फिल्म निर्माता सच्ची कहानी में थोड़ी बहुत बदलाव करके फिल्म की स्क्रिप्ट तैयार कर लेते हैं। लेकिन कुछ वास्तविक घटनाएं जोकी अपने समय की यादगार और मार्मिक होती है।

उनमें बदलाव करने के बजाय उनकी मूल कहानी के साथ पेश किया जाता है और एक यादगार फिल्म बन जाती है इसका एक उदाहरण अभी हाल ही में रिलीज हुई फिल्म ‘आर्टिकल 370’ है जोकी एक सच्ची घटना पर आधारित है और बिना बदलाव के बड़े पर्दे पर पेश की गई और एक बड़ी हिट फिल्म साबित हुई।

इसी प्रकार की कुछ शीर्ष वेब सीरीज आज हम आपके सामने प्रस्तुत कर रहे हैं जो सच्ची घटना पर आधारित है और OTT Platform पर रिलीज हो चुकी है और जिन्हें जनता ने पसंद भी किया है।

Top 5 Web Series

1.Indian Predator: Murder in a Courtroom(अदालत कक्ष में हत्या)

ये नेटफ्लिक्स की मूल डॉक्युमेंट्री सीरीज है, इस वेब सीरीज में एक सीरियल किलर अक्कू यादव की हत्या कैसे 200 लेडीज के ग्रुप द्वारा कोर्ट रूम में कर दी जाती है इस पर आधारित है, ये सीरीज सच्ची घटना पर आधारित है जो 13 अगस्त 2004 को नागपुर महाराष्ट्र के कोर्ट में घटित हुई थी।

ये 3 एपिसोड वाली कालीचरण यादव उर्फ ​​अक्कू यादव की सच्ची घटना पर आधारित है जो नागपुर का रहने वाला एक दूधिया था जो बाद में अपराध की दुनिया में प्रवेश करता है और जिन पर उसने अत्याचार किया उन्हीं लोगों के ग्रुप ने अक्कू यादव की कोर्ट रूम में हत्या कर दी यहीं डॉक्युमेंट्री में दिखाया गया है।

Indian Predator

वेब सीरीज को नेटफ्लिक्स ओटीटी प्लेटफॉर्म पर देखा जा सकता है वेब सीरीज की संक्षिप्त जानकारी नीचे दी जा रही है-

  • निर्माता: वॉयस इंडिया
  • सम्पादक: मोनिशा वाल्दावा
  • ऋतुओं की संख्या:1
  • एपिसोड:3
  • समय:45-50 मिनट
  • पहला एपिसोड 28 अक्टूबर 2022 को जारी किया गया
  • भाषा: हिंदी, मराठी
  • आधारित : कालीचरण यादव या अक्कू यादव पर आधारित
  • नेटवर्क: नेटफ्लिक्स

2. Auto Shankar: (ऑटो शंकर)

अगर आप क्राइम फिल्में देखना पसंद करते हैं तो ऑटो शंकर आपको पसंद आएगी, ‘ऑटोशंकर’ सच्ची घटना पर आधारित वेब सीरीज है ये सस्पेंस से भरी क्राइम आधारित वेब सीरीज है जो एक तमिल सीरियल किलर ‘ऑटो शंकर’ की क्राइम लाइफ पर आधारित है।

ऑटो शंकर एक भारतीय अपराधी और गैंगस्टर था जो तमिलनाडु का रहने वाला था और ऑटो चलाताथा इसे इसलिए ऑटो उपनाम से लोग जानते थे इसका अपराध का समय 1985 से 1995 तक था जब इसे 1995 में फाँसी की सजा दी गई।

ऑटो शंकर

ऑटो शंकर के जीवन पर आधारित वेब सीरीज बेहद रोचक है जिसे नेटफ्लिक्स पर देखा जा सकता है। वेब सीरीज को नेटफ्लिक्स ओटीटी प्लेटफॉर्म पर देखा जा सकता है वेब सीरीज की संक्षिप्त जानकारी नीचे दी जा रही है-

  • रिलीज की तारीख: 23 अप्रैल 2019
  • श्रेणी: अपराध आधारित थ्रिलर
  • एपिसोड की संख्या: 10
  • भाषा: तमिल और अन्य क्षेत्रीय
  • निर्देशक: रंगा याली
  • नेटवर्क: नेटफ्लिक्स

3.Indian Predator: The Butcher of Delhi (दिल्ली का कसाई)

ये 3 एपिसोड की वेब सीरीज बिहार के रहने वाले एक सीरियल किलर चंद्रकांत झा के अपराधों पर आधारित है, ये डॉक्यूमेंट्री वेब सीरीज सच्ची घटना पर आधारित है, वेब सीरीज दिल्ली पुलिस की जांच और चंद्रकांत के अपराधी मन के बीच का संघर्ष है जिसने 2006 में 3 सर कटी डेड बॉडीज को दिल्ली जेल के बाहर छोड़ कर दिल्ली पुलिस को चैलेंज दिया था।

दिल्ली का कसाई

वेब सीरीज को नेटफ्लिक्स ओटीटी प्लेटफॉर्म पर देखा जा सकता है वेब सीरीज की संक्षिप्त जानकारी नीचे दी जा रही है-

  • श्रेणी:वास्तविक अपराध वृत्तचित्र
  • निदेशक: आयशा सूद
  • क्रिएटिव डायरेक्टर: नंदिता गुप्ता, तुषार जैन, अरुण भाटिया
  • भाषा: हिंदी
  • एपिसोड की संख्या: 3
  • ऋतुओं की संख्या: 1
  • रिलीज की तारीख: 20 जुलाई 2022
  • समय:40-45 मिनट
  • निर्माता: वॉयस इंडिया

4. Khakee:The Bihar Chapter (द बिहार चैप्टर)

ये एक भारतीय अपराध थ्रिलर वेब सीरीज है, वेब सीरीज बिहार के नालंदा जिले और पटना जिले के अपराध पर आधारित है, वेब सीरीज मैं बिहार के
आईपीएस अधिकारी अमित लोढ़ा और बिहार के गैंगस्टर अशोक महतो के बीच की जंग है।

वेब सीरीज आईपीएस अमित लोढ़ा की किताब ‘बिहार डायरी’ पर आधारित है नेटफ्लिक्स ने ‘खाकी द बिहार चैप्टर’ वेब सीरीज अमित लोढ़ा की किताब पर बनाई है।

द बिहार चैप्टर

वेब सीरीज को नेटफ्लिक्स ओटीटी प्लेटफॉर्म पर देखा जा सकता है वेब सीरीज की संक्षिप्त जानकारी नीचे दी जा रही है-

  • निर्माता: नीरज पांडे
  • निर्देशक: भाव धूलिया
  • भाषा: हिंदी
  • समय: 45 मिनट
  • संगीतकार:अद्वैत नेमलेकर
  • रिलीज की तारीख:5 नवंबर 2022
  • श्रेणी:अपराध आधारित वेब श्रृंखला

5. The Railway Men: (रेलवे पुरुष)

वेब सीरीज 1984 में भोपाल में घटी यूनियन कार्बाइड इंडिया लिमिटेड गैस त्रासदी की सच्ची घटना पर आधारित है, इस गैस कांड में हजारों लोगों ने अपनी जान गंवा दी थी लेकिन कुछ रेलवे कर्मियों ने अपनी जान को जोखिम में डाल कर भोपाल की एक ट्रेन में बैठे हजारो लोगो की जान कैसे बचाई यही वेब सीरीज में दिखाया गया है।

The Railway Men

वेब सीरीज में इफ्तेकार सिद्दीकी मुख्य भूमिका में हैं, इनके साथ आर माधवन, के के मेनन, दिव्येंदु और बाबिल खान ने सपोर्ट किया है। वेब सीरीज को नेटफ्लिक्स ओटीटी प्लेटफॉर्म पर देखा जा सकता है वेब सीरीज की संक्षिप्त जानकारी नीचे दी जा रही है-

  • निर्माता: आदित्य चोपड़ा
  • श्रेणी: ऐतिहासिक त्रासदी पर आधारित वेब श्रृंखला
  • निर्देशक: शिव रवैल
  • भाषा: हिंदी
  • रिलीज की तारीख: 18 नवंबर 2023
  • संपादक: यश जयदेव रामचंदानी
  • समय: 50-65 मिनट
  • एपिसोड की संख्या: 4
  • नेटवर्क: नेटफ्लिक्स

FAQs:

Q: क्या खाकी बिहार सच्ची कहानी पर आधारित है?

A: 2018 में भारतीय पुलिस अधिकारी अमिता लोढ़ा ने अपनी किताब ”बिहार    डायरीज” में बिहार का सबसे खतरनाक अपराधी कैसे पकड़ा इसका खुलासा    किया। नवंबर 2022 में नेटफ्लिक्स ने इस किताब से प्रेरित होकर वेब सीरीज   ”खाकी: द बिहार चैप्टर” जारी की।

इन्हें भी पढ़े:

Top Five Free OTT Apps: मूवी और वेब सीरीज देखना हुआ आसान, ऐप लिस्ट से सलेक्ट करें

आपको वास्तविक घटनाओं पर आधारित Top 5 Web Series पोस्ट में Top 5 Web Series से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है यदि आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने मित्र मंडली में साझा करें। और Comment करें।

SSC GD Constable Exam 2024: Result देखने का आसान तरीका जानें PST, PET पास करना क्यों जरूरी है पूरी जानकारी!

Staff Service Commission(SSC) जल्द ही SSC GD (General Duty) कांस्टेबल 2024 का परिणाम घोषित करने वाला है, ये परीक्षा मार्च माह में आयोजित की गई थी।

ये नौकरी कांस्टेबल स्तर की सरकारी नौकरी है, अगर आपने भी ये परीक्षा दी है तो बताना चाहेंगे जल्द ही एसएससी अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर परीक्षा का परिणाम अपलोड करेगा।

SSC GD Constable के Online परीक्षा का परिणाम जल्दी ही घोषित होगा, परीक्षा 26,146 कांस्टेबल पद के लिए 30 मार्च 2024 को सीबीटी (कंप्यूटर आधारित टेस्ट) के माध्यम से ली गई थी, इस परीक्षा की Answer Key SSC द्वारा 3 अप्रैल 2024 को जारी कर दी गई है।

जो अभ्यर्थी Online परीक्षा को पास कर लेंगे, उन्हें सरकारी नौकरी पाने के लिए फिजिकल राउंड से गुजरना होगा, जिसमें उनकी फिजिकल फिटनेस को SSC GD मानदंड के आधार पर चेक किया जाएगा।

SSC GD परीक्षा परिणाम 2024 अप्रैल में घोषित होने की संभावना है, हालांकि SSC की ओर से कोई अंतिम तिथि नहीं बताई गई है। मेडिकल फिटनेस टेस्ट क्लियर करने के बाद डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन प्रोसेस किया जायेगा और अंत में एसएससी द्वारा शॉर्टलिस्ट किए गए उम्मीदवारों की सूची प्रकाशित कर दी जाएगी, जिनको सरकारी नौकरी में कॉन्टेबल पद की पेशकश की जाएगी।

अगर आपने SSC GD कॉन्स्टेबल 24 की परीक्षा दी है तो आपका इंतजार खत्म होने वाला है, जल्द ही परिणाम की तारीख SSC द्वारा घोषित की जाएगी। Result PDF डाउनलोड करने के लिए, आपको आवेदन पत्र भरने के समय पर प्रदान किये  पंजीकरण(Roll No) संख्या और पासवर्ड का उपयोग आवश्यकता होगी।

SSC GD Exam 2024 परीक्षा सारांश(Summary)

SSC GD एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा है जिसका आयोजन प्रति वर्ष एसएससी द्वारा विभिन्न सरकारी संस्थानों में जनरल ड्यूटी पोस्ट के लिए आवेदन भरवाया जाता है और चयनित अभ्यर्थी BSF,SSB, SSF, ITBP, CRPF, CISF, AR आदि के लिए जनरल ड्यूटी कांस्टेबल पोस्ट पर पोस्टिंग दी जाती है SSC GD 24 परीक्षा 26,146 विभिन्न सरकारी संस्थानों में खाली पड़े पदों के लिए आयोजित की गई थी जिसकी परीक्षा 30 मार्च को ली गई थी।

SSC GD Constable की कार्यप्रणाली और जिम्मेदारी

आम तौर SSC GD सब इंस्पेक्टर और सहायक सब इंस्पेक्टर से नीचे की रैंक होती है, इनकी नियुक्ति सुरक्षा गार्ड के रूप में होती है ये पुलिस स्टेशन में ऊपरी स्तर के अधिकारियों की अनुपस्थिति में उनके सभी कर्तव्यों का पालन करते है, इनकी रिपोर्टिंग सब इंस्पेक्टर को होती है जो उन्हें आवश्यकता होने पर मामले की जांच की जिम्मेदारी भी दे देते हैं।

SSC GD Exam 2024 Date Summary

एसएससी जीडी परीक्षा 2024 के परिणाम घोषित होने की कोई आधिकारिक जानकारी नहीं है, लेकिन अप्रैल 2024 में इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड होने की संभावना है, नीचे दी गई तालिका के माध्यम से SSC GD की Date Summary दी जा रही है-

Date Summary

SSC GD Exam 2024 का रिजल्ट कैसे डाउनलोड करें?

SSC GD Eaxm 2024 का परिणाम ऑनलाइन नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करके डाउनलोड किया जा सकता है-

1.Staff Service Commission (SSC) की आधिकारिक वेबसाइट ssc.nic.in पर जाएं।

2.होम पेज पर आपको ‘Result’ ऑप्शन शो होगा इसपर क्लिक करें।

3.’SSC GD’ का ऑप्शन ओपन होगा इस पर क्लिक करें।

4.’SSC GD Constable Result’ पर क्लिक करें।

5.आपको एक ‘PDF Link’ शो होगा इस पर क्लिक करें।

6. फॉर्म भरने के साथ ही रजिस्ट्रेशन नंबर और पासवर्ड जनरेट किया गया था इसको एंटर करके अपना नाम एंटर करें।

7.आपका अपना रिजल्ट शो होने लगेगा।

ssc Gd result

SSC GD Exam 2024 उत्तीर्णमानदंड(Qualifying Criteria):

SSC GD परीक्षा 2024 क्वालिफाई करने के लिए एसएससी ने उम्मीदवारों को श्रेणियों में डिवाइड किया है

सामान्य श्रेणी के लिए 35% अंक अनिवार्य होंगे, जबकी SC ,St and OBC और अन्य के लिए 33% अंक अनिवार्य होंगे।

Qualifying Criteria

SSC GD Exam 2024 सिलेबस पैटर्न(Syllabus Parren):

SSC GD परीक्षा पेपर के 4 सेक्शन होते हैं परीक्षा कंप्यूटर आधारित ऑनलाइन होती है। पेपर कुल 160 अंकों का रखा गया है जिसमें 4 सेक्शन होते हैं SSC GD परीक्षा पेपर-

  1. जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग
  2. सामान्य ज्ञान और सामान्य जागरूकता
  3. प्राथमिक गणित और
  4. हिंदी और अंग्रेजी पर आधारित होता है

प्रत्येक section में 20 प्रश्न 40 अंक के होते हैं जिन्हे 60 मिनट में हल करना होता है। हर सही उत्तर के लिए 2 अंक दिए जाते हैं जबकी गलत उत्तर के लिए 0.50 अंक कट कर लिया जाता है पेपर का प्रश्न मानक 10वीं कक्षा के समकक्ष होता है नीचे SSC GD परीक्षा का सिलेबस पैटर्न टेबल के मध्यम से क्लियर किया जा रहा है-

Syllabus Pattern

SSC GD Exam 2024 शारीरिक परीक्षण (Physical Test):

SSC GD Exam का ऑनलाइन परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों का फिजिकल टेस्ट होता है जैसे 2 stages में डिवाइड किया गया है-

  • PST(Physical Standard Test)
  • PET(Physical Eligibility Test)

SSC GD Constable शारीरिक मानक परीक्षण 2024 (PST):

शारीरिक मानक परीक्षण योग्यता प्रकृति का होता है जिसमें उम्मीदवार का ऊंचाई, वजन और छाती का माप लिया जाता है, PST measurement पुरुष और महिला के लिए अलग-अलग होता है, पीएसटी परीक्षण का विवरण नीचे दी गई तालिका में साझा किया जा रहा है-

Height Detail

शारीरिक परीक्षण के पीएसटी अनुभाग में छाती का माप केवल पुरुष अभ्यर्थी का किया जाता है SSC GD के दिशानिर्देश के अनुसार महिला अभ्यर्थी को इस परीक्षण में शामिल नहीं किया जाता है।

Chest Detail

SSC GD Constable

SSC GD Exam 2024 शारीरिक योग्यता परीक्षण (PET):

Physically Eligibility Test (PET) में उम्मीदवार के दी गई समय सीमा में दौड़ प्रदर्शन को जांचा जाता है उम्मीदवार को दोनों फिजिकल टेस्ट क्वालिफाई करना होता है तभी फाइनल लिस्ट के लिए नाम शॉर्टलिस्ट किया जाता है।

Running Detail

FAQs:

Q: SSC GD क्लियर करने के बाद क्या होता है?

A: उम्मीदवार जिसने SSC GD selection process के पहले 3 stages को clear कर लिया है, अंतिम चरण की प्रक्रिया में पाहुच जाता है जिसे DME(Detailed Medical Examination) कहते हैं। DME Medical Board के द्वारा conduct किया जाता है जैसे CAPF (Central Armed Police Forces) द्वारा कंट्रोल किया जाता है।

Q: क्या SSC GD आसानी से क्रैक हो सकता है?

A: SSC GD बहुत कठिन परीक्षा नहीं है, आपको केवल Correct Preparation Strategy और Regular Practice की आवश्यकता है।

इन्हें भी पढ़े

TS DSC Vacancy 2024: Exam Date, Admit Card कैसे डाउनलोड करें पूरी जानकारी!

UP Board 2024: 10वीं कक्षा का Result कब आएगा, कैसे, कहां चेक करे? पूरी जानकारी!

आपको SSC GD Constable Exam 2024 पोस्ट  में SSC GD Exam 2024 से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है यदि आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने मित्र मंडली में साझा करें। और Comment करें।

अयोध्या में रामलला का पहला सूर्यतिलक: जाने किस तकनीक से संभव हो पाई विशेष घटना, पूरी जानकारी !

अयोध्या में 22 जनवरी 2024 को रामलला की भव्य समारोह में प्राण प्रतिष्ठा हुई, 17 अप्रैल को राम नवमी के दिन रामलला का पहला जन्मदिन था जिसे पूरे देश में एक उत्सव के रूप में मनाया गया रामलला के मस्तक पर 3 मिनट तक सूर्य तिलक किया गया जिसे पूरे देश के साथ वहां मौजूद लाखों लोगों ने अपनी आंखों से देखा।

17 अप्रैल बुधवार को रामनवमी के दिन रामलला के ‘सूर्य तिलक’ का आयोजन किया गया उनके मस्तक के केंद्र में प्रौद्योगिकी का उपयोग करके सूर्य के प्रकाश पुंज से अभिषेक किया गया मंदिर में प्रस्तुत हर कोई इस यादगार क्षण को अपने पास सहेज कर रखना चाहता था।

जिसे ऐसा करने का अवसर मिला उसने अपने जीवन को धन्य समझा, जिसे प्रत्यक्ष अवसर नहीं मिला वह एलईडी स्क्रीन और मोबाइल पर अभिभूत करने वाले इस पल का  साक्षी बन रहा था, 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद पूरे देश का केंद्र बिंदु एक बार फिर से रामलला और अयोध्या थे।

इस अवसर को जीवंत करने के लिए राज्य सरकार की पहले से तैयारी थी संपूर्ण अयोध्या को सजाया गया क्योंकि इस रामनवमी पर रामलला के प्रथम जन्मदिवस पर भव्य सूर्यतिलक का आयोजन होना था, ये अवसर इसलिए भी विशेष था क्योंकि 5 शताब्दी के बाद हर आस्थावान हिंदू के जीवन में ये पल आया था।

भगवान रामलला को ये विशेष उपहार उनके पहले जन्मदिवस पर दिया गया, लेकिन ये काम मुश्किल था क्योंकि इस योजना के लिए सभी के विचार समान नहीं थे, कुछ लोगों का मत था कि मंदिर अभी पूरा नहीं हुआ है, इसलिए सूर्यतिलक का कार्यक्रम बाद में रखा जाना चाहिए।

लेकिन अयोध्या के संत समाज ने ये कहकर कि रामलला की प्राण प्रतिष्ठा शास्त्र विधिविधान अनुसार की गई है और पूजा सेवा भी प्रतिदिन चल रही है इसलिए सूर्यतिलक का आयोजन पहले जन्मदिवस पर ही होना चाहिए इस आयोजन को अपनी सम्मति दे दी और रामजन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र की अनुमति के बाद केंद्रीय भवन अनुसंधान संस्थान रूड़की और बेंगलुरु के वैज्ञानिकों की टीम ने ‘सूर्यतिलक’ के प्रोग्राम पर तैयारी प्रारंभ कर दी।

Suryatilak

रामलला का सूर्य तिलक एक चुनौती

रामलला के सूर्यतिलक का कार्य आसान नहीं था इसमें सूर्य की किरणों को मंदिर के ऊपर मंजिल से विशेष उपकर्णो के मध्यम से पृथ्वी की गति को ध्यान में रखते हुए गर्भ गृह में विराजित रामलला के मस्तक पर केन्द्रित करना था जिसमें सभी उपकर्णो का एक साथ कार्य करना जरूरी था।

सूर्यतिलक में किसकी क्या भूमिका रही?

गर्भ गृह में सूर्य की किरणें लाने के लिए CSIR-CBRI रूड़की ने ‘Suryatilak Mechanism’ विकसित किया, भारतीय खगोल भौतिकी संस्थान (आईआईए) ने तंत्र की ऑप्टिकल डिजाइन तैयार की, इस कार्य को सार्थक करने के लिए झुकाव तंत्र, पाइप, ऑप्टिकल तत्व के निर्माण का कार्य Optics and Allied Engineering Pvt Ltd (Optica) बैंगलोर ने किया।

OM

‘Suryatilak Mechanism’ ने कैसे काम किया?

पीतल के पाइप में विशिष्ट कोण पर 4 लेंस और 4 दर्पणों को रखा गया जिससे सभी लेंस और दर्पण पर पड़ने वाली सूर्य की किरणें एक एकल(single)सूर्य किरण में परिवर्तित हो गईं सूर्य की किरणों के प्रकीर्णन(dispersal) को रोकने के लिए पाइपों के जोड़ों पर काला पाउडर लगा दिया गया।

सभी सूर्य की किरणों का संयोजन होकर रामलला के मस्तक के केंद्र पर पड़ने लगी रामलला के मस्तक को सूर्य की किरणों की गर्मी से बचाने के लिए इंफ्रा- रेड फिल्टर ग्लास का उपयोग किया गया फलस्वरूप 58 मिमी का सूर्य तिलक 3 मिनट तक रामलला के मस्तक को सुशोभित करता रहा।

Ram Lala

रामलला के सूर्य तिलक के लिए विशेष रूप से बनाये गए ‘ऑप्टो-मैकेनिकल सिस्टम’ को सफल करने के लिए-

  • CSIR(council of scientific and Industrial Research)-CBRI (central Building research Institute), रूड़की
  • IIA (Indian Institute of Astrophysics), बेंगलुरु
  • Optica (Optics & allied Engineering Pvt Ltd) बेंगलुरु के साथ अप्रैल के पहले सप्ताह में कई बार टेस्ट किए।

श्री रामलला का सूर्य तिलक रामनवमी के दिन अभिजीत मुहूर्त में 12 बजकर 01 मिनट पर किया गया इससे पहले प्रातः काल रामलला का पंचामृत(कच्चा दूध, घी, दही, गंगा जल, शहद) से अभिषेक किया गया गुलाबी वस्त्र धरण कराए गए मणि माणिक्य हीरे पन्ने के आभूषणों से सजाया गया।

रामलला के सूर्य तिलक के बाद 56 भोग प्रस्तुत किए गए, सुंदर संगीत और भजन का आनंद रामलला ने लिया सूर्य तिलक के समय कृत्रिम लाइट्स को बंद कर दिया गया। अयोध्या में इस दुर्लभ अवसर का साक्षी बनने के लिए लाखों की संख्या में भक्त पहुंचे पीएम मोदी ने सूर्य तिलक को लैपटॉप पर देखा।

PM Modi

FAQs:

Q: रामलला को ‘सूर्य तिलक’ कब किया गया?

A: अयोध्या स्थित राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र में विराजित रामलला के प्रथम जन्मदिवस 17 अप्रैल को राम नवमी के दिन दोपहर 12 बजकर 1 मिनट पर शुभ अभिजीत मुहूर्त में भव्य ‘सूर्य तिलक’ समारोह का कार्यक्रम किया गया।

Q: रामलला की आयु कितनी है?

A: रामलला बाल रूप में है इनको बालक राम भी कहा जाता है 5 वर्ष के रामलला की प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी 2024 को की गयी।

Q: रामलला को क्या पसंद है?

A: रामलला बाल रूप में है इसलिए उन्हें माखन मिश्री और बेसन के लड्डू का भोग लगाया जाता है।

इन्हें भी पढ़े:

उत्तर भारत के कौन से 5 प्रसिद्ध तीर्थ हैं जिनकी यात्रा फरवरी माह में की जा सकती है ?

आपको अयोध्या में रामलला का पहला सूर्यतिलक पोस्ट में रामलला के पहले सूर्यतिलक से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है यदि आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने मित्र मंडली में साझा करें। और Comment करें।

UPSC(Civil Services Exam) 2023: के लिए अंतिम परिणाम घोषित, चेक करें अपना नाम IAS बनने की प्रक्रिया क्या है ? Summary जानें!

UPSC(Union Public Services Commission)ने वर्ष 2023 UPSC CSE का अंतिम परिणाम घोषित कर दिया है, जिसकी अंतिम सूची में भारतीय प्रशासनिक सेवा, भारतीय विदेश सेवा, भारतीय पुलिस सेवा और केंद्रीय सेवाओं के ग्रुप ‘A’ और ग्रुप ‘B’ के 1016 उम्मीदवार शामिल हैं।

UPSC ने ये फाइनल लिस्ट 16 अप्रैल को जारी की अगर आपने भी यूपीएससी परीक्षा दी है तो यूपीएससी की आधिकारिक वेबसाइट पर visit करके अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं।

भारत में सबसे प्रतिष्ठित परीक्षा UPSC(Civil Services) को माना जाता है, इस परीक्षा के माध्यम से अखिल भारतीय सेवाओं और केंद्रीय सिविल सेवाओं-

  • Indian Administrative Services(IAS)
  • Indian Police Services(IPS)
  • Indian Foreign Services(IFS)
  • Indian Revenue Services(IRS) के लिये उम्मीदवारों का चयन किया जाता है।

संघ लोक सेवा आयोग ने 2023 वर्ष के लिए योग्य 1016 उम्मीदवारों के रोल नंबर, नाम और उम्मीदवार की अखिल भारतीय रैंकिंग सूची अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड कर दी है, चयनित उम्मीदवार को अखिल भारतीय सेवाओं एवं केंद्रीय सेवाओं के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा।

Final Result

 

UPSC(Civil Services Exam) 2023 अंतिम सूची

हर छात्र और उसके अभिभावक का सपना होता है कि वे आईएएस या आईपीएस परीक्षा पास करें हमारे भारत की सबसे कठिन परीक्षा में सिविल परीक्षा को माना जाता है, जो उम्मीदवार परीक्षा को पास कर लेता है वह स्वयं को भाग्यशाली मानता है।

ये परीक्षा कितनी कठिन होती है इसको इस बात से इमेजिन किया जा सकता है कि 2023 के लिए 13 लाख अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी और प्रीलिम्स और इंटरव्यू के बाद केवल 1016 अभ्यर्थियों की सूची फाइनल की गयी जिसे यूपीएससी ने 16 April को प्रकाशित किया है।

संघ लोक सेवा आयोग के 1016 उम्मीदवारों की अंतिम सूची के साथ-साथ 240 ऐसे उम्मीदवारों की सूची भी प्रकाशित की गई है, जिनको रिजर्व सूची में रखा गया है, इसके साथ ऐसे 355 उम्मीदवारों की सूची भी UPSC की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध है, जिनको प्रोविजनल सेक्शन में रखा गया है।

UPSC 2023 अंतिम सूची

UPSC(Civil Services Exam) 2023 के टॉपर्स

यूपीएससी ने 1016 अंतिम उम्मीदवारों की सूची प्रकाशित कर दी है, इस सूची में लखनऊ के आदित्य श्रीवास्तव ने यूपीएससी परीक्षा में प्रथम रैंक प्राप्त की है, जबकी हैदराबाद की अनन्या रेड्डी ने महिला वर्ग में प्रथम स्थान प्राप्त किया और अखिल भारतीय रैंक सूची में तृतीय स्थान प्राप्त किया है।

यूपीएससी परीक्षा कड़ी मेहनत और समर्पण का प्रतीक होती है, परीक्षा में शामिल होने के लिए न्यूनतम आवश्यकता स्नातक होती हैअगर आपने भी यूपीएससी परीक्षा दी है तो नीचे दिए गए तरीकों को फॉलो करके अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं –

सेवा परीक्षा 2023 के टॉपर्स

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2023 का परिणाम जांचने के लिए –

  1. UPSC की आधिकारिक वेबसाइट upsc.gov.in पर क्लिक करें।
  2. UPSC का Home Page ओपन होगा।
  3. नीचे स्क्रॉल करके ‘Final Result’ पर क्लिक करें।
  4. अब आपको सिविल सेवा (मुख्य) परीक्षा 2023 की ‘PDF Download’ पर क्लिक करना है।
  5. आप अपना रोल नंबर और नाम दर्ज करके रिजल्ट चेक कर सकते हैं।

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2024 का प्रीलिम्स परीक्षा 26 जून 2024 को होना है, इस परीक्षा को Dedication और Well Set time table का पालन करके पास किया जा सकता है, यूपीएससी परीक्षा के पासआउट के साक्षात्कार और अनुभव से प्रेरणा ली जा सकती है।

Civil Services Exam कैसे क्रैक करें?

यूपीएससी 2023 के टॉपर आदित्य श्रीवास्तव ने एक इंटरव्यू में कहा कि 2022 में आदित्य की 236वीं रैंक आई थी, आदित्य ने अपनी आखिरी तैयारी का रिव्यू किया और अपनी की हुई आखिरी गलतियों को दूर किया और यूपीएससी 2023 में फ़िर परीक्षा दी, और इस बार उन्हें ऑल इंडिया फर्स्ट रैंक मिली।

यूपीएससी परीक्षा की अगर आप तैयारी करना चाहते हैं तो आपको 3 phases का सामना करना होगा।

IAS,PCS

  • प्रथम phase में Prelims परीक्षा होगी जिसका लिखित पेपर General Studies और CST(Civil Services Aptitude Test) पास करना होगा, UPSC द्वारा ये पेपर कैंडिडेट की विश्लेषणात्मक(analytical), निर्णय लेने(decision making), तार्किक(logical)और योग्यता क्षमता(Aptitude Capability) की जांच करने के लिए लिया जाता है।
  • प्रथम चरण क्लियर करने के बाद, द्वितीय चरण में मेन्स की परीक्षा होगी, 7 पेपर क्लियर करने होंगे।
  • तीसरे चरण में इंटरव्यू होगा साक्षात्कार उम्मीदवार विचारों की स्पष्टता(thought calrity), अभिव्यक्ति की गुणवत्ता(Quality of expression)और उत्तर की संक्षिप्तता को जांचने के लिए लिया जाता है Interview के बाद शॉर्टलिस्ट किए गए उम्मीदवारों की सूची घोषित की जाती है।

Civil Services Exam कितने प्रयास (attempts) ले सकते हैं?

अगर आप सामान्य वर्ग से संबंधित हैं तो अधिकतम 6 attempts, OBC के लिए 9 attempts और SC/ST के लिए 37 वर्ष की आयु तक यूपीएससी परीक्षा में appear होने के योग्य है जो उम्मीदवार परीक्षा में pass नहीं हो पाता है उसे दोबारा प्रयास करना पड़ता है।

Civil Services Exam पासआउट की केंद्रीय और राज्य स्तर पर नियुक्ति 

UPSC परीक्षा के रैंक धारकों का विभिन्न केंद्रीय और राज्य स्तरीय विभाग विभागों में नियुक्ति होती है संघ लोक सेवा आयोग के वर्ष 2023 के लिए अंतिम 1016 अभ्यर्थियों की सूची घोषित कर दी गई है।

यह सूची श्रम मंत्रालय (Lab our Dept) जोकी केंद्रीय सरकार के अधीन है, और भर्ती और प्रशिक्षण का कार्य  देखता है, इस सूची में केंद्रीय और राज्य स्तर पर विभागों की रिक्तियों के अनुसार central और State level पर स्थान और विभाग आवंटित करता है और उम्मीदवारों की एक अंतिम सूची घोषित की जाती है।

UPSC Haed Office

UPSC Civil Services Exam 2023 के राज्यवार उम्मीदवार(Statewise Candidates)

Year 2023 के लिए चयनित 1016 उम्मीदवारों की सूची ऑनलाइन उपलब्ध है सूची के अनुसार भारत के मध्य प्रदेश राज्य से 27 उम्मीदवार, जबकी बिहार के 3 उम्मीदवार, नागालैंड से 4 और 31 मुस्लिम उम्मीदवारों को सूची में जगह मिली है।

FAQs:

Q: UPSC के लिए कौन सा विषय सबसे अच्छा है?

A: UPSC आईएएस की तैयारी के लिए आर्ट्स स्ट्रीम के विषयों को सबसे अच्छा ग्रेजुएशन सब्जेक्ट माना जा सकता है। छात्रों के लिए 12वीं के बाद इतिहास, राजनीति विज्ञान, भूगोल या अर्थशास्त्र ले सकते हैं क्योंकि ये विषय यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा का आधार बनते है।

Q: UPSC में मार्किंग कैसे होती है?

यूपीएससी परीक्षा सबसे ज्यादा मांग वाला एग्जाम है। हर सही उत्तर के लिए आपको 2 अंक मिलेंगे और अगर आपने गलत उत्तर दिया है तो प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 0.66 अंक कट कर लिए जायेंगे ।

Q: UPSC में राइटिंग का कितना महत्व है?

अगर आपकी राइटिंग साफ-सुथरी नहीं है तो एग्जामिनर को कॉपी चेक करने में दिक्कत हो रही है तो हर प्रश्न के लिए आपको 1-2 मार्क्स लूज करने पड़ सकते हैं।

इन्हें भी पढ़े:

TS DSC Vacancy 2024: Exam Date, Admit Card कैसे डाउनलोड करें पूरी जानकारी!

एसएससी सीजीएल सिलेबस 2024:टियर-1 और टियर-2 के परीक्षा पैटर्न और सिलेबस की जानकारी हिंदी में

आपको UPSC(Civil Services Exam) 2023 पोस्ट में Civil Services Exam 2023 से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है यदि आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने मित्र मंडली में साझा करें। और Comment करें।

Google Pixel Fold 2 Smartphone: जानिए भारत में लॉन्च की तारीख, Specific Features, कीमत, पूरी जानकारी!

अगर आप अच्छे बजट में स्मार्टफोन खरीदने का सोच रहे हैं तो आपके लिए गूगल एक अच्छा अल्टरनेट हो सकता है, Google अपना पहला फोल्डेबल फोन Google Pixel Fold 2 लॉन्च करने जा रहा है जिसका नाम गूगल पिक्सल फोल्ड 2 है जोकी अपने विशेष फीचर्स, लुक और डिजाइन के साथ जबरदस्त एंट्री करने जा रहा है।

Google का ये फोल्डेबल कैटेगरी का पहला फोन है, जिसके 12 जीबी स्टोरेज के साथ एक पावरफुल 5000mAh की बैटरी होगी। गूगल के पिक्सल शृंखला के फोन अपने नाम से बिकते हैं।

Google के पिक्सल फोन की क्वालिटी फीचर्स के कारण भारत में और अन्य देशों में भारी डिमांड है गूगल पिक्सल के नए फोन के लॉन्च का लोग इंतजार करते हैं और एक जनवरी का प्रयास करते हैं कि इस बार गूगल ने कौन से नए फीचर्स ऐड किए हैं, गूगल का आखिरी फोन Google Pixel 8 लॉन्च हुआ था जिसकी भारी सेल हुई थी।

अब Google Pixel Fold 2 लोगों का आकर्षण केंद्र बना हुआ है गूगल पिक्सल फोल्ड 2 में क्या खास फीचर्स होंगे और भारत में इसकी कीमत कितनी होगी इसकी पूरी जानकारी, आज हम आपको इस पोस्ट में देंगे।

 Google Pixel Fold 2 भारत में कब लॉन्च होगा

लॉन्च होने से पहले ही भारत में गूगल पिक्सल फोल्ड 2 की चर्चा है, कुछ तस्वीरें फोल्ड 2 का unveil हुई है जिससे फोन के नए फीचर्स के बारे में लोगों की जिज्ञासा बढ़ी है, गूगल की तरफ से लॉन्चिंग डेट कन्फर्म नहीं है लेकिन जून 2024 में फ़ोन के बाज़ार में उपलब्ध होने की संभावना है।

 Google Pixel Fold 2 के रंग और कीमत

Google Pixel Fold 2 दो रंग पोर्सिलियन और ओब्सीडियन में उपलब्ध होगा Google Pixel Fold 2 की रेंज 90,000-10,00,00 रुपये के बीच हो सकती है।

गूगल स्मार्टफोन

गूगल पिक्सल फोल्ड 2 की सबसे बड़ी खासियत है, डिस्प्ले में 8.02 इंच का OLED डिस्प्ले होने की संभावना है।

Specific Features 1गूगल फोल्ड 2 में 18040*2208 pixel का इंटरनल रेजोल्यूशन और 368 ppi का डिस्प्ले डेंसिटी होने की संभावना है, अगर डिस्प्ले टाइप की बात करें तो ये पंच होल टाइप का हो सकता है।

डिस्प्ले की पीक ब्राइटनेस 2000 निट्स और रिफ्रेश रेट 120 हर्ट्ज का हो सकता है। फ्रंट साइड की पीक ब्राइटनेस 1800 निट्स और रिफ्रेश रेट 120Hz गूगल पिक्सल फोल्ड 2 के फ्रंट में 6.29 इंच का OLED Display देखने को मिल सकता है।

Google Pixel Fold 2 के कैमरे की विशेषता

गूगल पिक्सल फोल्ड 2 के फ्रंट में 12MP+12MP का सेल्फी कैमरा देखने को मिल सकता है। जिसके द्वारा 4000@30फ्रेम प्रति सेकेंड पर वोडियो रिकॉर्डिंग की सुविधा मिल सकती है।

specific Features 3

जहां तक ​​रियर कैमरा का सवाल है 50MP+10.8MP+10.8MP का रियर कैमरा देखने को मिल सकता है जिसमें OIS का सपोर्ट होगा, जिसकी हेल्प से स्लो मोशन, मैजिक इरेज़र, लगातार शूटिंग, HDR पैनोरमा जैसी सुविधा मिलने की संभावना है।

Google Pixel Fold 2 स्टोरेज की खासियत

गूगल के इस विशेष फोन की स्पीड तेज रखने के लिए और डेटा को सुरक्षित रखने के लिए, 12 GB की RAM और 256 GB का इंटरनल स्टोरेज मिलने की संभावना है, फोन में मेमोरी कार्ड के लिए विशेष स्लॉट देखने को नहीं मिलेगा।

Specific Feaures 2

Google Pixel Fold 2 का बैटरी चार्जर

गूगल के इस फोन में फास्ट चार्जिंग के लिए USV Type-c 45W का फास्ट चार्जर हो सकता है, जिससे फोन केवल 55-60 मिनट में फुल चार्ज हो सकता है, फोन में 5000mAh की लिथियम पॉलिमर की पावरफुल बैटरी मिलने की संभावना है, बैटरी नॉनरिमूवेबल होगी।

Google Pixel

FAQs:

Q: गूगल पिक्सल फोल्ड 2 कितना बड़ा है?

A: गूगल पिक्सल फोल्ड 2 में 8.02 इंच की फोल्डेबल स्क्रीन है और 6.29 इंच की कवर स्क्रीन है।

Q: Google Pixel फ़ोन में क्या खास है?

A: गूगल के पिक्सल फोन की कैमरा क्वालिटी और डिजाइन को सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है। गूगल पिक्सल फोन का सॉफ्टवेयर अन्य एंड्रॉइड फोन से अलग करता है। गूगल हर कुछ महीनों के बाद अपने पिक्सल फोन को अपडेट करता रहता है, जिससे नई सुविधाएं नियमित रूप से रूप से मिलती रहती है।

Q: गूगल पिक्सल फोल्ड 2 इतना महंगा क्यों है?

A: Google को आयात(Import Duty) शुल्क देना पड़ता है, जिससे फोन की कीमत बढ़ जाती है, दूसरा कारण है Pixel 8 हाई एंड कंपोनेंट के साथ प्रीमियम स्मार्टफोन है, इसे किसी अन्य स्मार्टफोन की मैन्युफैक्चरिंग से ज्यादा महंगा बना देता है।

Q: Google Pixel Fold 2 4जी है या 5जी ?

A: Google Pixel फोल्ड 2 5G स्मार्टफोन है विवरण नीचे दिया जा रहा है-

  • Cellular Technology- -5G
  • Connectivity Technology- Wireless,Bluetooth
  • Network Technology – WiFi
  • Charging –USB Type-c

इन्हें भी पढ़े:

Airtel Payments Bank Smartwatch:अब स्मार्टवॉच से करें ऑनलाइन पेमेंट! जानिए पेमेंट का तरीका,स्पेसिफिकेशन

iQooZ9 5G-जानें Holi Discount, Exchange Offers, भारत में कीमत और Specification

आपको Google Pixel Fold 2 Smartphone पोस्ट में Google Pixel Fold 2 से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है यदि आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने मित्र मंडली में साझा करें। और Comment करें।

MHT CET Exam 2024 PCB Admit Card: ऐसे डाउनलोड करें, PCM ग्रुप की Exam Date क्या है जानें!

MHT CET Cell (महाराष्ट्र हेल्थ एंड टेक्निकल कॉमन एंट्रेंस टेस्ट सेल) ने 13 अप्रैल को पीसीबी ग्रुप के लिए एडमिट कार्ड लिंक ओपन कर दिया है, जिसमें फिजिक्स केमिस्ट्री, बायोलॉजी के साथ जिन छात्रों ने 12वीं पास की है और वे छात्र MHT CET 2024 परीक्षा क्वालिफाई करके महाराष्ट्र राज्य के फार्मेसी ग्रुप के बीफार्मा, डीफार्मा कोर्स के लिए एडमिशन लें सकते हैं।

जबकी PCM विषय के छात्र MHT CET Exam उत्तीर्ण करके BE और B.Tech कोर्स के लिए योग्य होंगे। MHT CET Exam 2024 के लिए पीसीबी और पीसीएम ग्रुप के लिए आवेदन/पंजीकरण पत्र भरने की अंतिम तिथि 15 मार्च 2024 थी।

अगर आपने भी एमएचटी सीईटी का एप्लीकेशन फॉर्म भरा है और आप पीसीबी या PCM ग्रुप में हैं तो आप को सूचित करना चाहेंगे कि एमएचटी सीईटी को नियंत्रण करने वाली सेल ने एमएचटी सीईटी परीक्षा के पीसीबी ग्रुप के एडमिट कार्ड आधिकारिक वेबसाइट पर जारी कर दिए हैं।

आप आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करके अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं, जबकी पीसीएम ग्रुप के एडमिट कार्ड अभी जारी नहीं हुए हैं, पीसीएम ग्रुप की परीक्षा मई महीने में होगी।

MHT CET Exam

MHT CET 2024 परीक्षा विवरण (Exam Detail)

MHT CET Exam महाराष्ट्र की राज्य स्तरीय प्रवेश परीक्षा है जिसके तहत राज्य के इंजीनियरिंग और फार्मेसी कॉलेजों में बी.टेक और बी फार्म और डी फार्म पाठ्यक्रम के लिए आवेदन पत्र होता है अगर किसी छात्र ने 12वीं की परीक्षा न्यूनतम 50% अंकों के साथ पास किया है तो वे एमएचटी सीईटी परीक्षा में शामिल हो सकते हैं।

MHT CET Exam उत्तीर्ण करके महाराष्ट्र राज्य के इंजीनियरिंग और फार्मेसी कॉलेज से स्नातक की डिग्री ली जा सकती है और अपना भविष्य उज्ज्वल बनाया जा सकता है प्रस्तुत पोस्ट मैं आपको एमएचटी सीईटी की महत्वपूर्ण परीक्षा का एडमिट कार्ड कैसे डाउनलोड कर सकते हैं  इसकी पूरी जानकारी प्रदान की जाएगी।

MHT CET परीक्षा सारांश (Exam Summery)

एमएचटी सीईटी 2024 की परीक्षा सीनियर सेकेंडरी सिलेबस पर आधारित होगी। परीक्षा के 3 पेपर होंगे, पहला पेपर गणित और दूसरा पेपर फिजिक्स और केमिस्ट्री और तीसरा पेपर बायो ग्रुप के जूलॉजी और बॉटनी के होंगे।सभी तीन पेपर का विवरण नीचे दिया जा रहा है –

MHT

MHT CET Exam के महत्वपूर्ण बिंदु:

1.परीक्षा की चेकिंग में नेगेटिव मार्किंग नहीं होगी।

2.पेपर का मानक जेईई मेन्स के समान होगा।

3. परीक्षा को उत्तीर्ण करके महाराष्ट्र के सर्वश्रेष्ठ इंजीनियरिंग और फार्मेसी कॉलेज से स्नातक करने का मौका मिलेगा।

4.फार्मेसी में ग्रेजुएशन करने के बाद अच्छे पैकेज पर किसी हॉस्पिटल में प्लेसमेंट का मौका मिलता है।

  • MHT CET Exam उत्तीर्ण करने के लिए छात्रों को अपने सर्वोत्तम प्रयासों के साथ तैयार करना चाहिए, ग्रेजुएशन के बाद कॉलेज से ही आपका performance के अनुसार अच्छी कंपनी में नौकरी का ऑफर मिल सकता है, जिससे आपकी पढ़ाई का लक्ष्य और एक अच्छी नौकरी का सपना पूरा हो सकता है।
  • अगर आपने फिजिक्स, केमिस्ट्री और गणित विषय के साथ 12वीं पास की है तो पीसीएम ग्रुप का एग्जाम क्लियर करके इंजीनियरिंग कर सकते हैं और अगर आपने फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी ग्रुप के साथ इंटरमीडिएट किया है तो पीसीबी ग्रुप से एमएचटी सीईटी एग्जाम पास करके बी फार्म और डी फार्म करके अपना करियर बना सकते हैं।

    MHT CET Exam 2024 Admit Card PCB (Physics,Chemistry,Biology)ग्रुप के लिए 

    MHT CET Cell ने पीसीबी ग्रुप के लिए 13 अप्रैल को एडमिट कार्ड जारी कर दिया है, जिसे सीईटी ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट mahacet.og पर अपलोड किया है, अगर आपने भी CET 2024 पीसीबी ग्रुप के लिए फॉर्म भरा है तो अपनी रजिस्टर्ड मेल आईडी और पासवर्ड का उपयोग करके एडमिट कार्ड आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं जिसकी आपको परीक्षा कक्ष में प्रवेश के लिए आवश्यकता होगी।

MHT CET

MHT CET Exam 2024 PCB Admit Card कैसे डाउनलोड करें?

  1. MHT CET की Official Website cetcell.mahacet.org पर विजिट करें।

2.Candidate Registration section में जाकर अपनी Registered mail ID और password fill करके sign in करें।

3.अब साइन इन करके Hall Ticket या Admit Card विकल्प पर क्लिक करें।

4.स्क्रीन पर आपका एडमिट कार्ड शो होने लगेगा जिस पर आपकी पूरी डिटेल जैसे सेंटर का नाम, रोल नंबर, मोबाइल नंबर पता आदि होंगे।

5.अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड करें, प्रिंटआउट लें, परीक्षा कक्ष में एडमिट कार्ड के बिना एंट्री नहीं मिलेगी, इसके साथ जितने भी आवश्यक दस्तावेज जैसे पासपोर्ट साइज फोटो आदि, अपने पास  रखें जिससे वेरिफिकेशन में कठिनाई ना हो।

Admit card

MHT CET Exam 2024 दिनांक अनुसूची (Date Schedule)

MHT CET Cell (Maharashtra Health and Technical Common Entrance Test Cell) ने पीसीबी ग्रुप के एडमिट कार्ड आधिकारिक वेबसाइट पर 13 अप्रैल को अपलोड कर दिए हैं। ये परीक्षा 22,23,24,28,29,30 अप्रैल 2024 को महाराष्ट्र के विभिन्न केंद्रों पर आयोजित की जाएगी।

Date Scheduleपीसीएम ग्रुप के लिए अभी एडमिट कार्ड घोषित नहीं किए गए हैं पीसीएम ग्रुप के लिए परीक्षा 2,3,4,9 ,10,11,15,16,17 मई 2024 को आयोजित की जाएगी।

छात्रों को perfect time management और विषय पर concentrate करके, परीक्षा की तैयारी करनी चाहिए, जिससे महाराष्ट्र के नामी -गिरामी इंजीनियरिंग या फार्मेसी कॉलेज में सीट कन्फर्म हो जाए।

FAQs:

Q: CET के लिए पासिंग मार्क्स कितने होने चाहिए?

A: KCET 2024 के अनुसार सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को कुल 180 अंक, में से न्यूनतम 50% अंक प्राप्त होने चाहिए जबकी रिजर्व कैटगरी के उम्मीदवार को कुल 200 अंक में से 40% अंक प्राप्त होने चाहिए।

Q: CET के लिए कितने attempts लिये जा सकते हैं?

A: छात्र जिसने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से न्यूनतम 45% अंकों के साथ 10+2 उत्तीर्ण किया है वह एमएचटी सीईटी 2024 परीक्षा में शामिल हो सकता है, प्रयासों की संख्या के लिए कोई सीमा नहीं है।

Q: क्या MHT CET कठिन है?

A: CET परीक्षा कठिन नहीं है लेकिन सामान्य कॉलेज परीक्षा अलग होती है, अगर आपके फंडामेंटल क्लियर हैं तो आप इसे आसानी से क्लियर कर सकते हैं।

इन्हें भी पढ़े:

12th Board Exam: में सफ़लता के महत्वपूर्ण सूत्र, जाने अच्छे स्कोर के लिए कैसे करें तैयारी!

CSEET Exam: May 2024 पंजीकरण खुला, आवेदन कैसे करें? पेपर डिटेल, पूरी जानकारी !

आपको MHT CET Exam 2024 पोस्ट में CET Exam 2024 PCB Admit Card से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है यदि आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने मित्र मंडली में साझा करें। और Comment करें।

CUET(PG) Exam 2024: NTA ने परिणाम घोषित किया, अपना Result ऐसे डाउनलोड करें पूरी जानकारी!

CUET(PG) Exam 2024 विश्वविद्यालय में एडमिशन के लिए  प्रवेश परीक्षा का परिणाम घोषित किया गया है यह परीक्षा राष्ट्रीय स्तर पर केंद्रीय और राज्य/डीम्ड /निजी विश्वविद्यालयों / संस्थानों में शैक्षणिक सत्र 2024-25 के लिए विभिन्न पीजी कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए आयोजित की गई थी

ग्रेजुएशन के बाद हर स्टूडेंट का सपना होता है कि किसी टॉप-नॉच यूनिवर्सिटी से मास्टर्स करने का, ऑल इंडिया बेसिस पर पीजी प्रोग्राम के लिए एंट्रेंस एग्जाम का आयोजन करने रिपोजिबिलिटी NTA (National Testing Agency) के पास है NTA ने इस परीक्षा का परिणाम 13 अप्रैल 2024 को घोषित किया है

CUET(PG)Exam

भारत के विभिन्न विश्वविद्यालयों/संस्थानों में प्रवेश लेने के लिए एक बेहतर विकल्प और राष्ट्रव्यापी platform NTA CUET(PG) के माध्यम से प्रदान करता है CUET (PG) Exam 2024 में भारत के 190 विश्वविद्यालयों (केंद्रीय, निजी और राज्य स्तर) ने भाग लिया

260 शहरों के 572 केंद्रों पर सीबीटी (कंप्यूटर आधारित टेस्ट) द्वारा मोड 11 मार्च से 28 मार्च तक आयोजन किया गया, सीयूईटी (पीजी) की Final उत्तरकुंजी 12 अप्रैल 2024 को एनटीए द्वारा जारी की गई थी, परिणाम एनटीए ने 13 अप्रैल को घोषित किया है

National Testing Agency(NTA) क्या करता है ?

एनटीए भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय के तहत कार्य करने वाला स्वतंत्र संगठन है, जिसकी जिम्मेदारी शिक्षा में सुधार के, साथ ही विभिन्न विश्वविद्यालयों और संस्थानों के लिए राष्ट्रीय स्तर पर परीक्षा आयोजित करना है, परीक्षा में पारदर्शिता, अंतर्राष्ट्रीय स्तर और शिक्षा गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाता है NTA राष्ट्रीय स्तर पर JEE (Main) NEET, UGC (NET), CMAT, GPAT, CUET और AIAPGET (All India Aayush Post Graduate Entrance Test) आयोजित करता है

13 अप्रैल

CUET(PG)Exam 2024 के लिए लगभग 7 लाख छात्रों ने ऑनलाइन पंजीकरण किया था जबकी परीक्षा में 6 लाख उम्मीदवार उपस्थित हुए थे CUET(PG) Exam 2024 उत्तीर्ण करने वाले अभ्यर्थी केंद्रीय/राज्य/निजी विश्वविद्यालय/संस्थान में पीजी पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए संबंधित विश्वविद्यालय का फॉर्म भरकर आवेदन कर सकते हैं।

CUET(PG) Exam Result ऐसे चेक करें:

रिजल्ट

अगर आपने भी CUET(PG) Exam 2024 दी है तो नीचे दिए गए detail के अनुसार पूरी प्रक्रिया चरण दर चरण जांचें –

  • सबसे पहले NTA की आधिकारिक वेबसाइट pgcuet.samarth.ac.in पर जाएं
  • होम पेज पर CUET(PG) Exam 2024 रिजल्ट सर्च करें
  • लिंक पर क्लिक करके अपना रोल नंबर आदि भरें और रिजल्ट डाउनलोड करें

आप NTA से लिंक भारत की किसी भी यूनिवर्सिटी में पीजी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए पात्र हैं, आगे की शिक्षा नामी गिरामी यूनिवर्सिटी से करके अपना करियर शानदार बना सकते हैं

NTA

CUET(PG) Exam 2024 टॉपर्स प्रेरणा स्रोत:

CUET(PG) Exam परिणाम एनटीए द्वारा रिलीज किया गया है, एनटीए ने सीयूईटी (पीजी) परीक्षा के टॉपर्स की सूची अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर प्रकाशित की है । जोकी आगे इस परीक्षा में उपस्थित होने वाले उम्मीदवारों के लिए प्रेरणा स्रोत हो सकती है। आपकी जानकारी के लिए नीचे डिटेल दी जा रही है –

Toppers

FAQs:

Q: क्या मैं CUET PG का एक पेपर मिस कर सकता हूं?

A: CUET के सभी विषयों की परीक्षा में शामिल होना जरूरी नहीं है, अगर आप एक पेपर में एबसेंट हो जाते हैं तो आप उस विशेष विषय की डिग्री के लिए योग्य नहीं होंगे, जिस विषय का पेपर दिया है उसकी डिग्री के लिए योग्य हो सकते हैं

Q: क्या CUET PG परीक्षा कठिन है?

A:  CUET PG को मीडियम माना जाता है। Difficulty level हर साल बदलता रहता है, इसीलिये छात्रों को परीक्षा की तैयारी अच्छी करनी चाहिए

Q: क्या JNU CUET PG  2024 के अंतर्गत आता है?

A: JNU CUET PG 2024 (Common Universities Entrance Test (PG) के माध्यम से शैक्षणिक सत्र 2024-25 के लिए M.sc, MA, M.ch, MPH, M.Tech, M.CA, PG डिप्लोमा और एडवांस डिप्लोमा पाठ्यक्रम के लिए प्रवेश प्रदान करता है

Q: CUET PG 2024 का Exam Structure क्या है?

CUET PG 2024 का परीक्षा संरचना 2024 नीचे दी गई तालिका के द्वारा समझा गया है –

Exam Structure

Q: CUET PG 2024 Exam  के लिए मैं कितनी यूनिवर्सिटीज को सेलेक्ट कर सकता हूं?

A: CUET PG 2024 Exam के लिए आप ऐसी किसी भी यूनिवर्सिटी में अप्लाई कर सकते हैं जहां आपके एजुकेशनल एस्पिरेंट्स फुलफिल होते हैं। CUET PG 2024 आपको एप्लीकेशन फॉर्म में ‘N’ या किसी भी नंबर में यूनिवर्सिटीज का सिलेक्शन करने की परमिशन देता है

इन्हें भी पढ़े:

JAIIB 2024 Exam:पंजीकरण, परीक्षा तिथि, उत्तीर्ण प्रयास का पूरा विवरण

CSEET Exam: May 2024 पंजीकरण खुला, आवेदन कैसे करें? पेपर डिटेल, पूरी जानकारी !

आपको CUET(PG) Exam 2024 पोस्ट में CUET(PG) Exam से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है यदि आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने मित्र मंडली में साझा करें। और Comment करें।

12th Board Exam: में सफ़लता के महत्वपूर्ण सूत्र, जाने अच्छे स्कोर के लिए कैसे करें तैयारी!

Higher Senoir Secondary (12th Board) एक छात्र के लिए बहुत महत्वपूर्ण होती है क्योंकि परीक्षा से छात्र के पिछले प्रदर्शन की ट्यूनिंग कनेक्ट होती है जिस level  का प्रदर्शन, उसकी पिछली कक्षाओं का था लगभग उसी स्तर का प्रदर्शन 12वीं कक्षा में होता है।

12वीं कक्षा से ही भविष्य के करियर की योजना शुरू होती है। इसलिए 12वीं कक्षा अतीत और भविष्य का एक जंक्शन होता है या भविष्य का गेटवे होता है ऐसा कहना गलत नहीं होगा।

इसकी इसी अहमियत को देखते हुए हर इंटरव्यू में सबसे पहले 12वीं कक्षा की मार्कशीट देखी जाती है जो छात्र के दिमाग की ताकत और प्रदर्शन (strength and performance) दिखाती है। इसलिए प्रत्येक छात्र को 10वीं पास करने के बाद 12वीं फोकस्ड सुनियोजित रणनीति को फॉलो करना चाहिए, जिससे 12वीं की परीक्षा में आप अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकें।

आज के इस पोस्ट में आपको 12वीं परीक्षा के महत्व को देखते हुए कैसी तैयारी करनी चाहिए, इसकी जानकारी आप से शेयर करेंगे

करियर का गेट

12th Board करियर का गेट वे(Career’s Gateway)

12वीं पास करने से पहले छात्र फैसला कर लेता है कि उसको कौन सा प्रोफेशन पसंद है, 12वीं कक्षा के बाद कॉलेज लाइफ शुरू हो जाती है, और मेडिकल और इंजीनियरिंग के लिए प्रवेश परीक्षा की तैयारी शुरू होती है, अगर कोई छात्र अन्य लाइन में जानना चाहता है तो उसके अनुसार आगे बढ़ते हैं

आजकल प्रतिदिन कैरियर उन्मुख प्रवेश परीक्षा की तारीखें घोषित हो रही हैं, विश्वविद्यालय और कॉलेज अपने यहां चलने वाले पाठ्यक्रमों के लिए ऐड निकाल रहे हैं जिसमें उपस्थित होकर/पास होकर आप आगे के कैरियर की सही दिशा चुन सकते हैं।

लेकिन ये तभी संभव है जब 12वीं बोर्ड में अच्छा प्रतिशत हासिल किया हो, अगर आप राज्य स्तर का बोर्ड फेस कर रहे हैं या सीबीएसई या आईसीएसई परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं दोनों की अध्ययन रणनीति एक ही होती है

हायर सेकेंडरी परीक्षा की तैयारी के लिए आपको नीचे दिए गए हाइलाइट् किए गए बिन्दुओ को ध्यान से पढ़ना चाहिए

12th Board

1.जटिल विषय/पाठ रेखांकित करें(Underline Complicated Topics)

12वीं बोर्ड परीक्षा की तैयारी से पहले अपने बोर्ड (State /CBSE/ICSE) के पाठ्यक्रम का गहन अध्ययन करें, जो विषय या पाठ आपको कठिन लगें, उन्हें रेखांकित करें करके उनकी कठिनाई स्तर के अनुसार और परीक्षा में विशेष विषय/पाठ पर पूछे जाने वाले प्रश्नों के अंक के अनुसार अतिरिक्त समय तय करें। टॉपिक को क्लियर करने के लिए NCERT बुक की मदद ले सकते हैं ।

पूरे पाठ्यक्रम को उनके अंक के अनुसार अपने समय-सारणी के अनुसार तैयार करें, यदि आपके मित्र मंडली में किसी अन्य छात्र को विशेष विषय पर जो आपको कठिन लगता है अच्छी जानकारी हो। कॉन्सेप्ट स्पष्ट है तो उनके साथ विषय को समझने काप्रयास कर सकते हैं

2. उत्तम अध्ययन अनुसूची(Best Time Schedule)

अगर आपको 12वीं बोर्ड परीक्षा में शामिल होना है और आपने अपना करियर लक्ष्य निर्धारित किया है तो आपको 12वीं बोर्ड परीक्षा में अच्छे प्रतिशत से उत्तीर्ण होना होगा, इसके लिए शुरुआत से ही उचित पढ़ने की योजना बनाएं। पूरा अध्याय तैयार करना महत्वपूर्ण नहीं है, लेकिन विषय को समझना महत्वपूर्ण है।

रोजाना एक विषय के लिए जितना भी लक्ष्य तय किया है उसे रोजाना पूरा करें और उसको लागातार जारी रखें अपने महत्वपूर्ण लेकिन कठिन विषयों को अंडरलाइन करें या अलग कॉपी पर नोट करके उनपर नोट्स बनाएं उनको अलग से समय दें 12वीं बोर्ड में सफल होने वाले छात्र एक परफेक्ट और निरंतर योजना पर चलते हैं तभी अच्छा प्रतिशत हासिल कर पाते हैं, उनसे प्रेरणा लें.

छात्र

3.पिछले वर्ष के टेस्ट/प्रश्न पत्र का महत्व (Last Years Test Papers Important)

एक दी गई टाइम लाइन में कठिन प्रश्नों को हल करने का अभ्यास करें, पुराने साल के टेस्ट पेपर का अभ्यास करें, ये आपकी बहुत मदद कर सकते हैं, जिससे आप अपनी तैयारी और अपने विषय पर पकड़ का विश्लेषण कर सकें और एक फिक्स टाइम में, आप दिए गए सवाल को कितने समय में समाधान कर पाते हैं

इसका पता चल जाएगा और कॉन्सेप्ट क्लियर न होने की स्थिति में आप विशेष विषय को फिर से तैयार कर सकते हैं, जिससे आपकी प्रश्न हल करने की गति और स्वयं पर आत्मविश्वास बढ़ेगा।

4.परफेक्ट प्लानिंग और टाइम टेबल महत्वपूर्ण (Perfect Planning & TimeTable Important)

12th Board Exam के लिए तैयारी करने से पहले सभी subjects पर अपनी knowledge के अनुसार प्रत्येक विषय को उपयुक्त समय दें पहले प्राथमिकता गणित, विज्ञान, बायो जैसे स्कोरिंग विषयों को जिनमें अच्छे अंक आते हैं, हिंदी अंग्रेजी जैसे सैद्धांतिक विषय(Theoritical Subjects) के लिए अपनी लेखन स्पीड (Writing Speed) पर फोकस करें बनाए गए टाइम टेबल के अनुसार नियमित अभ्यास करके दिए गए फिक्स टाइम में आप अपना प्रदर्शन सुधार सकते हैं

5.अच्छे Score में सुन्दर लेखन का महत्व(Fine Handwriting Important)

आप अपनी सुंदर राइटिंग से कॉपी चेक करने वाले को इम्प्रेस कर सकते हैं यदि आपका उत्तर टॉपिक के अनुसार डायग्राम से सजा हुआ है और
सीमित शब्दों में आपने पूरा टॉपिक समझाया है तो आपको अच्छे नंबर लाने से कोई रोक नहीं सकता, राइटिंग स्पीड अच्छी होने के साथ-साथ विषय को पूरा समझाएं, अपने
विषय के अनुसार अलग-अलग नोट्स बनाएं, जिससे आप लक्ष्य को अच्छे मार्क्स के साथ प्राप्त कर सके

परफेक्ट प्लानिंग

6.एकाग्रता बढ़ाएँ(Focus on Concentration)

सही योजना के साथ एकाग्रता भी बहुत अधिक आवश्यक है  टीवी, आदि एकाग्रता को ठेस पहुंचाने वाले डिवाइस से दूर रहें। कुछ समय के मनोरंजन के लिए इनका उपयोग कर सकते हैं, उचित आहार लें, तय  समय तय पर उठे और सोए।

12th Board Exam की तैयारी सारांश (12th Board Summary)

  • यदि विद्यार्थी का mathematics part अच्छा है तो अच्छे स्कोर प्राप्त करने में मदद मिल जाती है अच्छा गणित, भौतिक विज्ञान और रसायन विज्ञान के numerical हल करने के लिए मैं भी बहुत मदद करता है
  • भौतिकी और रसायन विज्ञान के सैद्धांतिक भाग(Theoritical Part)के अलग-अलग नोट्स concept को समझने के बाद अपनी भाषा में तैयार करें NCERT की पाठ्य पुस्तक बहुत उपयोगी होती है।
  • जीवविज्ञान जैसे सिद्धांत आधारित विषयों में डायग्राम की बहुत महत्ता होती है जीव विज्ञान (जूलॉजी, वनस्पति विज्ञान) के लिए अपने नोट्स तैयार करें डायग्राम बनाने की प्रैक्टिस करें क्यूकी बायोलॉजी में डायग्राम अच्छा स्कोर लाने में बहुत मददगार होते हैं
  • हिंदी और अंग्रेजी जैसे सैद्धांतिक विषय(Theoritical Paper) में कम समय में ज्यादा लिखने की प्रैक्टिस और कविता को समझाने(explain) का अभ्यास करें।

सही विषय और समय की योजना और एकाग्रता के साथ नियमित अभ्यास 12वीं बोर्ड में अच्छा स्कोर पाने का कीर्तिमान स्थापित कर सकता है

FAQs:

Q: अगर कोई छात्र 12वीं बोर्ड परीक्षा में अनुपस्थित हो तो क्या होगा?

A: राज्य और सीबीएसई बोर्ड द्वारा ऐसे छात्र को अनुपस्थित घोषित कर दिया जाता है। इस प्रकार आप अगले वर्ष एक नियमित छात्र के रूप में बोर्ड परीक्षा दे सकते हैं

Q: अगर कोई छात्र 12वीं बोर्ड की प्रैक्टिकल परीक्षा मिस कर देता है या फेल हो जाता है तो क्या होता है?

A: यदि आप प्रैक्टिकल परीक्षा के मेल में फेल हो जाते हैं तो फाइनल रिजल्ट के लिए आपको ‘फेल’ लिखा हुआ आएगा, तब आपको प्रैक्टिकल परीक्षा देनी होगी।

आपको 12th Board Exam पोस्ट में Board Exam से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है यदि आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने मित्र मंडली में साझा करें। और Comment करें।

इन्हें भी पढ़े

Kendriye Vidyalaya Sangthan:पंजीकरण तिथि, शुल्क, शर्तें मानदंड पूरी जानकारी

JAIIB 2024 Exam:पंजीकरण, परीक्षा तिथि, उत्तीर्ण प्रयास का पूरा विवरण

Bajaj Pulsar NS 400: जानिए लॉन्चिंग डेट, खास फीचर्स ABS 3 Mode Duel Chennal के साथ आयेगी , पूरी जानकारी!

अगर आप नई बाइक के आने वाले मॉडलों पर ध्यान देते हैं या नई बाइक खरीदने के लिए योजना बना रहे हैं तो आपका इंतजार जल्दी ही खत्म होने वाला है क्योंकि Bajaj Auto ने अपनी सबसे प्रभावशाली और दमदार बाइक Bajaj Pulsar NS 400 के धमाकेदार लॉन्च की तारीख की आखिरकार घोषणा कर दी है जिसकी नई बाइक प्रेमी काफी समय से इंतजार कर रहे थे

हालाँकि बजाज ने लॉन्च मॉडल के नाम की घोषणा नहीं की है, लेकिन संभावना जताई जा रही है कि ये Bajaj Pulsar NS 400 ही होगी और बजाज
ऑटो के अनुसार Bajaj NS 400 की लॉन्च तिथि 3 मई 2024 की गयी है

Bajaj Pulsar के बाइक मॉडलों का बाजार में लॉन्च का इंतजार किया जाता है और इसके मॉडलों को जनता काफी पसंद भी करती है

NS 400

बजाज के दो सबसे आकर्षक और सराहनीय संस्करण, Dominar 400 और Bajaj NS 200 को देखा जाता है, ऐसी संभावना व्यक्त की जा रही है कि Bajaj NS 400 दोनों पिछले मॉडलों का मिश्रित परिष्कृत संस्करण होगा। आइए जानते हैं कि बजाज ऑटो की नवीनतम आगामी बाइक NS 400 में कौन से स्पेशल और लेटेस्ट फीचर्स होंगे –

1. शक्तिशाली इंजन (Powerful Engine):

ऑटोमोबाइल क्षेत्र के विशेषज्ञों ने NS400 के इंजन को लेकर कुछ संभावनाएं लगाई हैं क्योंकि बजाज ऑटो ने NS 400 की तारीख के अलावा फीचर्स पर कोई ब्रीफिंग नहीं दी है इसलिए NS 400 के इंजन को लेकर अनुमान व्यक्त किए जा रहे हैं । बजाज ने 390 ड्यूक के इंजन को रिवाइज और रीट्यून करके डोमिनार 400 में इस्तेमाल किया।

‘NS’ सीरीज की नई और सबसे पावरफुल बाइक के इंजन के बारे में कहा जा रहा है कि 6 Speed Gearbox से कनेक्टेड 373cc का Liquid Cooled Engine Bajaj NS 400 में देखने को मिल सकता है

2. मध्यम कीमत (Medium Price Range):

Bajaj Auto के मॉडलों को ‘पैसा वसूल’ कॉन्सेप्ट के कारण पसंद किया जाता है, बजाज ऑटो का सबसे महंगा मॉडल डोमिनार 400 रहा है जिसकी एक्स शोरूम कीमत 2.3 लाख है। हालांकि NS 400 की कीमत 3 मई को घोषित होगी लेकिन ये मीडियम रेंज बाइक हो सकती है

स्पेशलिस्ट के अनुरूप NS 400 का प्राइस Dominar 400 से नीचे होना चाहिए बजाज ऑटो ने अपनी घोषणा में ‘NS’ सीरीज की बाइक 3 मई को लॉन्च करने की घोषणा की है

इसके डिजाइन को लेकर मार्केट में अनुमान है कि Bajaj NS 200 को नया, संशोधित और आधुनिक डिजाइन के साथ पेश किया जा सकता है । बजाज NS 400 NS 200 को फॉलो करेगा।

Special Features

Bajaj NS 400 की विशेषताएं (Special Features):

Bike का सबसे महत्वपूर्ण फीचर राइडर की सुरक्षा है। 2019 से सभी 2 और 4 व्हीलर में ABS(एंटी लॉकिंग ब्रेकिंग सिस्टम) को अनिवार्य कर दिया गया है, ये एक विशेष प्रकार का सेफ्टी फीचर है जो ब्रेक लगाने के कुछ ही सेकेंड्स में सक्रिय हो जाता है और ब्रेकिंग सिस्टम को बैलेंस और कंट्रोल करता है जिससे गाड़ी इम्बैलेंस नहीं हो पाती है।

Bajaj Pulsar NS 400 में ABS 3 mode Dual Channel के साथ आने की संभावना है। Rain Mode, Road Mode और On and Off Mode के बजाज NS 400 में होने की संभावना है।

  • फ़ोन एप्लिकेशन कनेक्टिविटी (Phone Application Connectivity):

बजाज पल्सर NS 400 में नया संभावित फीचर, राइडिंग के दौरान फोन एप्लीकेशन को कनेक्ट करने के लिए डिजिटल किट हो सकती है जो ब्लूटूथ के द्वारा सक्रिय होती है।

Bajaj Pulsar NS 400

  • उपकरण समूह (Instrument Cluster)

आम तौर पर वाहन में एक डैश या डैश बोर्ड होता है जिसे स्टीयरिंग के पीछे लगाया जाता है, डैश बोर्ड पर एक इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर लगा रहता है जिसमें अलग-अलग गेज और लाइट लगी रहती है वाहन सवार, चालक वाहन की गति और स्थिति को कंट्रोल के लिए गेज और इंडिकेटर का उपयोग करता है।

आमतौर पर इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर में स्पीड, ऑयल और फ्यूल गेज और सिग्नल इंडिकेटर होते हैं, नई तकनीक के अनुसार Bajaj Pulsar NS 400 में इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर के कंट्रोल के लिए एक स्विच गियर होने की भी संभावना है।

Bajaj Pulsar NS 400

FAQs:

Q: Bajaj Pulsar NS 400 का माइलेज कितना है?

A: 47 kmpl

Q: NS 400 की टॉप स्पीड क्या है?

A: Bajaj Pulsar NS 400 की स्पीड 160 किमी प्रति घंटा है

Q: Bajaj Pulsar NS 400 की BHP कितनी है?

A:  सिंगल सिलेंडर लिक्विड कूल्ड इंजन 39.4 BHPऔर 35 Nm विकसित करता है और 6-स्पीड गियरबॉक्स से युक्त है

आपको Bajaj Pulsar NS 400 पोस्ट में NS 400 से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है यदि आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने मित्र मंडली में साझा करें। और Comment करें।

PM Kisan Yojna: 17वीं किस्त लाभार्थी सूची में अपना नाम ऐसे चेक करें, E-KYC, Registration की पूरी जानकारी !

PM Kisan सम्मान निधि योजना 24 फरवरी 2019 को प्रारम्भ हुई थी योजना का उद्देश्य पूरे भारत के किसानों को आर्थिक मदद प्रदान करना है। इस योजना के तहत  प्रत्येक किसान परिवार को प्रति वर्ष 6,000 रुपये वित्तीय सहायता के रूप में प्रदान किये जाते हैं जिसे 2000 रुपये की 3 किश्तो मे सीधे किसान लाभार्थी के खाते में ट्रांसफर किया जाता है।

PM Kisan सम्मान निधि के तहत भारत सरकार के कृषि मंत्रालय द्वारा 16 किश्तें जारी की जा चुकी हैं, पीएम किसान की आखिरी किश्त 28 फरवरी 2024 को जारी की गई, जिसमें लगभग 9 करोड़ किसानों के बैंक खातों में 21,000 करोड़ रुपये ट्रांसफर किए गए।

आज इस पोस्ट में पीएम-किसान योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी, और अगली किस्त कब जारी होगी इसकी जानकारी शेयर की जाएगी।

PM Kisan Yojna क्या है?

भारत सरकार द्वारा देश के छोटे और सीमांत किसानों को आर्थिक मदद प्रदान करने के लिए एक योजना शुरू की गई जिसे पीएम-किसान योजना भी कहा जाता है, इस योजना के तहत एक साल में 3 बार (हर चौथा महीना) 2000 की किस्त योग्य किसानो के खातों में ट्रांसफर की जाती है।

PM KisanYojna किसानों को कैसे मदद करती है?

पीएम-किसान में भूमि आकार शामिल नहीं है-

भारत सरकार का प्रयास छोटे और जरूरतमंद किसान तक इस योजना का लाभ पहुंचाने का है, किसान के पास कितना बड़ा खेत और भूमि है ये योजना का आधार नहीं है, बड़े और आर्थिक रूप से संपूर्ण किसान को इस योजना से अलग रखा गया है, योजना का लक्ष्य देश के हर छोटे किसान को योजना से जोड़ने का है।

PM kisan

ऑनलाइन लेन-देन प्रक्रिया को बढ़ावा-

PM Kisan योजना में 2,000 की किस्त किसान के खाते में सीधे प्राप्त होती है जिसकी प्रक्रिया में पारदर्शिता बनी रहती है पैसा गलत हाथो में ना जाकर जरूरतमंदों को मिलता है और सरकार के ऑनलाइन लेनदेन नीति को समर्थन मिलता है।

शहर और गाँव की आर्थिक असमानता को कम करना-

भारत की विशेषता एक कृषि आधार देश के रूप में है। देश के शहरों और गांवों में आर्थिक असमानता देखने को मिलती है, पीएम-किसान योजना के द्वार सरकार किसानों के आर्थिक संघर्ष को कम करके किसानों की आय को दोगुना करना चाहती है।

PM KisanYojna का लाभ किसे मिल सकता है?

किसी भी सरकारी योजना का लाभ लेने के लिए योजना के मापदंडों पर खरा उतरना होता है, नीचे पीएम-किसान योजना की मापदंडों(शर्तो) के बारे में बताया जा रहा है –

  1. पीएम-किसान योजना लाभ के लिए किसान भारतीय नागरिक होना चाहिए।
  2. किसान के पास खेती के लिए अपना भूमि खंड होना चाहिए, भूमि का आकार छोटा या बड़ा मायने नहीं रखता।
  3. किसान परिवार में किसान के अलावा, पत्नी, नाबालिग बच्चे होने चाहिए।
  4. पीएम-किसान योजना का लाभ शहर या गांव स्तर के सभी किसान ले सकते हैं उनके पास खेती योग्य भूमि होनी चाहिए।
  5. पीएम-किसान योजना केवल किसानों को आर्थिक मदद देने के लिए शुरू की गई है, वे सभी लोग जो किसी रूप में खेती किसानी के अलावा सरकारी नौकरी, राजनीति या किसी पेशे से जुड़े हैं, वे इस योजना का लाभ नहीं ले सकते।
  6. अन्य किसान के खेत में काम करने वाले किसान योजना के पात्र नहीं होंगे।

PM Kisan Yojna का लाभ लेने के लिए नीचे दिए गए दस्तावेजों की आवश्यकता होती है-

  • जन्म प्रमाण पत्र आयु प्रमाण के लिये
  • पैन/ड्राइविंग लाइसेंस/आधार कार्ड आईडी प्रूफ के लिये
  • बैंक पासबुक, खाता डिटेल के लिये
  • वोटर आईडी/राशन कार्ड एड्रेस प्रूफ के लिये
  • अगर कोई नॉमिनी है तो उसका आधार/पैन/आय प्रमाण
  • खेती/भूमि के कानूनी दस्तावेज
  • पीएम-किसान योजना का लाभ लेने के लिए ई-केवाईसी की आवश्यकता होती है
  •  ई-केवाईसी डॉक्यूमेंटनेट

अगर आप किसान हैं तो आने वाली 17वीं किस्त का लाभ लेने के लिए ई-केवाईसी पूरी करना आवश्यक है, जिससे आपका नाम पीएम-योजना के लाभार्थियों में शामिल हो जाए।

अपना नाम लाभार्थी सूची में जांच करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें –

Beneficiery status

  • भारत सरकार की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in पर जाएं।
  • पोर्टल के ‘Kisan Corner’ और ‘Beneficiary List’ पर क्लिक करें।
  • अपना राज्य, जिला, तहसील ब्लॉक, गांव का नाम दर्ज करें।
  • ‘Get Report’ पर क्लिक करें लाभार्थी सूची ओपन हो जाएगी।
  • अपना नाम चेक कर सकते हैं।

अगर आप पीएम-किसान योजना की 17वीं किस्त का लाभ लेना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको ई-केवाईसी करके अपना नाम पंजीकृत कराना होगा।

E-KYC करने के लिए सभी महत्वपूर्ण कदम नीचे दिए जा रहे हैं-

E-KYC

  1. पीएम किसान सम्मान योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  2.  ‘Farmer Corner’ पर जाकर ‘E-KYC’ पर क्लिक करें।
  3. OTP आधारित e-kyc सेक्शन ओपन होगा।
  4. आधार नंबर और आधार से लिंक मोबाइल नंबर दर्ज करें।
  5. ‘Get OTP’ पर क्लिक करें।
  6.  मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा।
  7. ओटीपी नंबर दर्ज करें सत्यापन के बाद ई-केवाईसी प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

PM Kisan Yojna पंजीकरण प्रक्रिया:(Registration Procedure)

अगर आप किसान हैं और इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आज ही अपना पंजीकरण करके आने वाली पीएम-किसान की 17वीं किस्त का लाभ लें, पंजीकरण की सभी जानकारी नीचे दिए गए चरणों में दी जा रही है-

पंजीकरण प्रक्रिया

  •  पीएम किसान सम्मान योजना की आधिकारिक वेबसाइट htpps://pmkisan.gov.in पर जायें।
  • ‘Farmer Corner’ पर जाएं, ‘New farmer Registration’ पर क्लिक करें।
  • Rural/Urban किसान पंजीकरण में से अपना विकल्प चुनें।
  • अपने राज्य का नाम, मोबाइल नंबर, और अपना नाम दर्ज करके कैप्चा कोड भरें।
  • मोबाइल नंबर पर प्राप्त हुये ओटीपी को दर्ज करें।
  • ‘SEND OTP’ पर क्लिक करें।
  • मोबाइल नंबर पर प्राप्त ओटीपी दर्ज करके ‘सबमिट’ करें और क्लिक करें।
  • आपसे सवाल पूछा जाएगा ‘आप क्या नया रजिस्ट्रेशन करना चाहते हैं’? ‘Yes’ पर क्लिक करें।
  • ‘PM KISAN REGISTRATION FORM’ ओपन हो जाएगा।
  • फॉर्म भरें, आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें, ‘Submit’ पर क्लिक करें।
  • एक किसान ID प्राप्त होगी, आपके दस्तावेजों के सत्यापन के बाद आपका नाम पीएम-किसान लाभार्थी सूची में जोड़ा जाएगा।

PM KisanYojna की 17वीं किस्त कब जारी होगी?

PM KisanYojna की 16वीं किस्त 28 फरवरी 2024 को जारी की गई थी, किस्त हर 4 महीने के बाद जारी की जाती है इसके अनुसार जून-जुलाई 2024 में 17वीं किस्त जारी होने की संभावना है।

FAQs:

Q: पीएम किसान योजना के लिए कितनी जमीन होनी चाहिए?

A: जब पीएम किसान योजना की शुरुआत हुई थी तो इस में उन किसानों को ही शामिल किया गया था जिनके पास 2 हेक्टेयर से अधिक ज़मीन हो लेकिन अब भारत का हर किसान इस योजना के लिए आवेदन कर सकता है यानी अगर उसके पास एक खेती योग्य खेत है तो वह इसके लिए अप्लाई कर सकता है।

Q: किसान आईडी का क्या मतलब होता है?

A: सरकार 12 अंकों की एक यूनिक आईडी किसानों को जारी करती है, इसके लिए किसानों का डेटाबेस तैयार किया जाता है, इस आईडी के माध्यम से किसानों के लिए केंद्र और राज्य सरकार की अलग-अलग योजनाओं का लाभ लेना ज्यादा आसान हो जाता है।

इन्हें भी पढ़े:

IE100 List में भारत के 10 शक्तिशाली लोगों में मोदी TOP पर!

पीएम मोदी की Lakshadweep यात्रा : अदभुत Natural Beauty

आपको PM Kisan Yojna पोस्ट में Kisan Yojna से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है यदि आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने मित्र मंडली में साझा करें और Comment करें।