पीएम मोदी की Lakshadweep यात्रा : अदभुत Natural Beauty

0
57
Diving

पीएम नरेंद्र मोदी 4 जनवरी 2024 को लक्षद्वीप यात्रा पर गए थे, उन्होंने वहां की प्राकृतिक और मनोरम सुंदरता की तस्वीरें अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट कीं है, पूरे देश ने उन तस्वीरों को देखा और सराहना की है। मोदी की लक्षद्वीप यात्रा से पहले लोग मालदीव जाना पसंद करते थे लेकिन लक्षद्वीप की उन तस्वीरों को देखकर हजारों भारतीयों ने अपनी मालदीव यात्रा की टिकट रद्द कर दी है।

पीएम मोदी की लक्षदीप यात्रा डिटेल को दूसरे दिन भी रिकॉर्ड लोगो ने गूगल पर सर्च किया है। लक्षदीप सबसे ज्यादा सर्च किया जाने वाला वर्ड बना हुआ है। लक्षद्वीपकी अपनी यात्रा के दौरन मोदी ने शांत और सुरम्य द्वीप की तस्वीरें पोस्ट कीं। उन्होंने आधुनिक बुनियादी ढांचे के विकास, बेहतर स्वास्थ्य सेवा, तेज इंटरनेट, और क्षेत्रीय संस्कृति के संरक्षण पर जोर दियाv

पीएम नरेंद्र मोदी के द्वारा केंद्र शासित प्रदेश का दौरा करने और द्वीप समूह की कुछ तस्वीरें ट्वीट करने के बाद लक्षदीप दूसरे दिन गूगल पर सबसे ज्यादा सर्च किया जाने वाला कीवर्ड रहा है।

शुक्रवार को केंद्र शासित प्रदेश में लोगो का इंटरेस्ट बना रहा। जब प्रधानमंत्री ने कहा कि”वे द्वीपो की सरप्राइज कर देने वाली सुंदरता और इसके निवासियो की अविश्वसनीय गर्मजोशी से अभी भी सरप्राइज है” तो 50,000 से अधिक लोगो ने Google पर लक्षदीप को search किया।

Museum

एक्स (ट्विटर) के एक पोस्ट पर पीएम मोदी ने कमेंट किया”हाल ही में मुझे लक्षद्वीप के लोगों के बीच रहने का मौका मिला, इसके द्वीपो के लुभावने द्रश्य और, इसके असाधारण दयालु लोग मुझे आश्चर्यचकित करना कभी नहीं छोड़ते”।

लाइफ जैकेट पहन कर स्नार्कलिंग करने की प्रधानमंत्री की कोशिश ने इंटरनेट पर हलचल मचा दी, प्रधानमंत्री ने इसे प्रफुल्लित कर देने वाला अनुभव बताया उन्हें आगे कहा कि ”यदि आप अपने आंतरिक अनावरण को अपनाना चाहते हैं तो लक्षद्वीप को आपकी सूची में शामिल किया जाना चाहिए। मैंने अपनी यात्रा के दौरान स्नोर्कलिंग भी की और ये एक अविश्वसनीय अनुभव था”।

“मुझे कवरत्ती, बंगाराम और अगत्ती के लोगों से बात करने का मौका मिला, पीएम मोदी ने द्वीपवासियों को आतिथ्य के लिए धन्यवाद दिया’’ “मुझे अभी लक्षद्वीप समुदाय के साथ समय बिताने का मौका मिला.यहां कुछ झलकियां हैं जिनमें लक्षद्वीप के कुछ हवाई सीन शामिल हैं’’।

फोटो में उन्हें समुद्र के किनारे एक कुर्सी पर आराम करते हुए दिखाया गया है जिसके कैप्शन में लिखा है ”अपनी सुंदरता के अलावा लक्षद्वीप की शांति” मंत्र मुग्ध कर देने वाली है” इसने मुझे ये विचार करने का मौका दिया है कि मैं 140 करोड़ भारतीयों की भलाई सुनिश्चित करने के लिए और अधिक प्रयास कैसे कर सकता हूं ?’’।

उन्होने सुबह सुबह बेदाग सुमुद्रा तटों पर टहलते हुए एक ख़ूबसूरत तसवीर शेयर की और लिखा “प्राचीन समुद्र तटों पर सुबह की सैर के क्षण अद्भुत आनंद से भरे थे”।

लक्षदीप विकास योजना की घोषणा

केंद्र शासित प्रदेश का आधुनिक बुनियादी ढांचा, बेहतर स्वास्थ्य देखभाल वैकल्पिक, तत्काल इंटरनेट पहुंच और इसकी ”जीवंत स्थानीय संस्कृति का संरक्षण” प्रधानमंत्री की घोषित प्राथमिकताएं हैं”।

“लक्षद्वीप में हमारा लक्ष्य बेहतर विकास के माध्यम से जीवन में सुधार करना है ये केवल भविष्य के बुनियादी ढांचे से संबंधित नहीं है, ये समृद्ध स्थानीय संस्कृति को बनाए रखने और बढ़ाने के लिए और बेहतर स्वास्थ्य देखभाल, तेज इंटरनेट और पीने के पानी के लिए दरवाजे खोलने के बारे में भी है जिन परियोजनाओं का उद्घाटन किया गया उनसे यही भावना झलकती है”।

विदेश मंत्री (ईएएम) एस जयशंकर के अनुसार पीएम मोदी की लक्षद्वीप यात्रा से द्वीप समूह की विशाल पर्यटन क्षमता दुनिया के ध्यान में आई है। जयशंकर ने लिखा कि प्रधानमंत्री मोदी ने क्षेत्र का दौरा करके लक्षद्वीप की विशाल पर्यटन क्षमता की ओर ध्यान आकर्षित किया है।

जयशंकर ने कहा हम सभी को इससे प्रेरित होना चाहिए। पर्यटन बढ़ने से लक्षद्वीप की अर्थव्यवस्था को बढ़ावा मिलेगा पर्यटक यहां के विशिष्ट रीति रिवाज और संस्कृति का भी स्वाद ले पाएंगे। जयशंकर ने कहा ”आइए हम अपने महान राष्ट्र की सुंदरता और विविधता को प्रदर्शित करें और भारत को वैश्विक मंच के लिए तैयार करें”।

लक्षदीप यात्रा के लिए कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

1.लक्षद्वीप एक भारतीय केंद्र शासित प्रदेश है जहां ग़ैर-निवासियों के लिए प्रवेश निषिद्ध है, इसलिए लक्षद्वीप यात्रा के लिए पासपोर्ट आवश्यक है। लक्षद्वीप में प्रवेश से पहले विदेशी नागरिकों को भारतीय वीजा लेना होगा, इसके अतिरिक्त द्वीप क्षेत्र तक पहुंचने के लिए भारतीय नागरिकों को परमिट की आवश्यकता होती है।

कवरत्ती

2. जब आप लक्षद्वीप के लिए यात्रा की योजना बनाएं तो पर्याप्त समय लेकर जाएं जिससे पास के द्वीप को देख सकें और कुछ दिन वहां रह सकें, यदि आप केवल आउटिंग के लिए छुट्टियों पर जाना चाहते हैं तो 4-5 दिन का समय आपको लक्षद्वीप में द्वीपग्रुप के हरे भरे प्राकृतिक सराउंडिंग के काफी करीब ले जाएगा।

3.ताराताशी पैकेज ताराताशी एक पैकेज प्रदान करता है जिसमें द्वीप पर 4-5 दिनों का प्रवास और लक्षद्वीप के प्रशासनिक केंद्र कवरत्ती की यात्रा शामिल रहती है इसके अलावा इस पैकेज में आपकी यात्रा को यादगार बनाने के लिए  पैकेज में तैराकी, स्कूवा डाइविंग, स्नॉर्कलिंग, ग्लास बॉटम बोट राइड और अन्य जल गतिविधियाँ शामिल हैं।

4.लक्षद्वीप की एक सप्ताह लंबी यात्रा का औसत खर्च प्रति व्यक्ति 500 ​​डॉलर (भारतीय मुद्रा 40,000 रुपये से 1,60,000 तक) से 2000 डॉलर तक आता है इसमें यात्रा, आवास, भोजन और मनोरंजन शामिल है।

बंगाराम

5.लक्षद्वीप पर आमतौर पर बोली जाने वाली बोली मलयालम है, माही और मिनिकॉय द्वीप पर सिंहली भाषा बोली जाती है, बोलचाल के लिए हिंदी का भी प्रयोग होता है, ज्यादा जनसंख्या मिनिकॉय, कवरत्ती और एंड्रोट आइलैंड पर रहती है।

6. लक्षद्वीप कई सारे द्वीपों का समूह है इसके द्वीप समूह के बीच में सड़क नहीं है इसलिए द्वीप पर केवल हेलोकॉप्टर सेवाएं, नाव या Ferries के द्वारा ही पहुँच सकते हैं।

7.लक्षद्वीप परिवार के साथ छुट्टियों पर जाने के लिए आदर्श स्थान है, द्वीप पर आपके लिए स्नॉर्कलिंग, स्कूबा डाइविंग जैसे कई रोमांचाक गेम्स मिल जाएंगे यदि आपमें साहसिक भावना है तो लक्षद्वीप आपके लिए सर्वोत्तम स्थान हो सकता है।

8.लक्षद्वीप की यात्रा के लिए अक्टूबर से मध्य मई तक का समय आदर्श है, मई से सितंबर तक वहां बारिश होती है, इसलिए मानसून में जहाज से द्वीप तक पहुंचना काफी चुनौतीपूर्ण होता है। वैसे लक्षद्वीप के रिसॉर्ट पूरे साल खुले रहते हैं।

9.बंगाराम को छोड़कर पूरे लक्षद्वीप में शराब पर प्रतिबंध है, उच्च गति वाली नौकाओं, जहाजों या जहाज का उपयोग आमतौर पर अंतर-द्वीप ट्रांसपोर्टेशन के लिए किया जाता है, अगर मौसम ठीक है तो आपको ये आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं।

10.लक्षद्वीप 36 छोटे द्वीपों का समूह है, जो अपने हरे भरे परिद्रश्य, आकर्षक और धूप से नहाए समुद्र तटों के लिए जाना जाता है लक्षद्वीप भारत का सबसे छोटा केंद्र शासित प्रदेश है, ये 36 छोटे द्वीप समूह से बना और 32 वर्ग किमी में फैला है।

11. अगत्ती हवाई अड्डा (एजीएक्स) अगत्ती द्वीप पर स्थित लक्षद्वीप समूह का एकमात्र हवाई क्षेत्र है, अगत्ती हवाई अड्डा के द्वारा, अगत्ती द्वीप और निकटवर्ती लक्षद्वीप समूह को सार्वजनिक हवाई सेवा प्रदान की जाती है।

12.एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया इस एयरपोर्ट को मैनेज करती है। एयरपोर्ट पर 1291 मीटर लंबा सिंगल पैसेंजर टर्मिनल है ये एक डामर रनवे है।

bangaram

यहां नीचे लक्षद्वीप के कुछ पर्यटन स्थलों की विस्तृत जानकारी दी जा रही है, जिनको आप अपनी लक्षद्वीप यात्रा की योजना बनाते समय यात्रा की सूची में शामिल कर सकते हैं-

  • Minicoy Island: नाव की सवारी के लिए प्रसिद्ध है।
  • Kadmat Island: पर स्वादिष्ट क्षेत्रीय भोजन का स्वाद लिया जा सकता है।
  • Karavatti Island: रोमांचक सूर्यास्त देखने के लिए प्लान किया जा सकता है।
  • Marine Museum: पानी के अंदर समुद्र की दुनिया का आनंद ले सकते हैं।
  • Pitti Bird Sanctuary: में विभिन्न प्रकार के सुंदर पक्षियों को देखा जा सकता है।
  • Thinnkara Island: पर आश्चर्यजनक लैगून को देखा जा सकता है।
  • Kalpeni Island: पर शांत सेर के लिए जा सकते हैं।
  • Bangaram Atoll: को स्वर्ग जैसा आनंद पाने के लिए प्लान किया जा सकता है।
  • Agatti Island: स्मोक्ड टूना मछली के लिए जाना जाता है।
  • Kiltan Island: ऐतिहासिक स्थान है।
  • Andrott Island: इतिहास को पसंद करने वाले लोगो के लिए आदर्श स्थान है।
  • Andmini Beach: स्कूबा डाइविंग प्रेमियों के लिए आदर्श स्थान है।

FAQs:

Q: क्या लक्षद्वीप मालदीव से बेहतर गंतव्य है?

A: यदि आप प्राचीन सुंदरता और सांस्कृतिक समृद्धि के साथ लीक से हटकर गंतव्य की तलाश में हैं तो लक्षद्वीप आपका आदर्श विकल्प हो सकता है।

Q: लक्षद्वीप का प्रसिद्ध खाना कौन सा है?

A: मुस कवाब जिसे स्थानीय जनता के अलावा पर्यटक भी पसंद करते हैं इसे बोनलेस मछली से बनाया जाता है जिसे मुस कहते हैं।

Q: लक्षद्वीप का निकटतम राज्य कौन सा है?

A: लक्षद्वीप भारत भूमि से हवाई मार्ग और समुद्र मार्ग द्वारा कनेक्ट है, केरल का कोझिकोड निकटतम बंदरगाह है।

आपको पीएम मोदी की Lakshadweep यात्रा पोस्ट में लक्षद्वीप से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है यदि आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने मित्र मंडली में साझा करें और comment करें।

हमारे नवीनतम पोस्ट:

IE100 List में भारत के 10 शक्तिशाली लोगों में मोदी TOP पर!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here